ख़बरें

दुबई में बसे भारतीय ने बनाया दान के लिए सबसे ज़्यादा स्टेशनरी जुटाने का विश्व रिकॉर्ड

ashu

November 22, 2016

SHARES

Source: NDTV | Image Courtesy: NDTV

दुबई में रहने वाले भारतीय सामाजिक कार्यकर्ता वेंकटरमन कृष्णमूर्ति ने एक अनोखा विश्व रिकॉर्ड बनाया है, उनका रिकॉर्ड इसलिए अनोखा नहीं कि वो उनकी व्यक्तिगत सफलता है, उनका रिकॉर्ड इसलिए अनोखा है क्योंकि उससे कई बच्चों का भविष्य सँवरेगा। वेंकटरमन ने 24 घंटे में दान (चैरिटी) के लिए स्टेशनरी का सबसे ज़्यादा सामान इकट्ठा करने का विश्व रिकॉर्ड बनाया है, जिसे गिनेस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में जगह दी गई है।

57 साल के वेंकटरमन कृष्णमूर्ति पेशे से एक चार्टर्ड एकाउन्टेन्ट हैं, उनका जन्म तमिलनाडु के तिरुनेलवेली में हुआ था, और वह वर्ष 1992 से दुबई में रह रहे हैं। उन्होंने ‘एजुकेशन4ऑल’ नाम से एक नॉन-प्रॉफिट अभियान चलाया है, जिसके तहत इस्तेमाल की हुई किताबें तथा खिलौने इकट्ठे किए जाते हैं, और उन्हें भारत तथा अफ्रीकी देशों में स्कूल, लाइब्रेरी प्रोजेक्टों के तहत दूरदराज के इलाकों में रहने वाले ज़रूरतमंद बच्चों में बाँटा जाता है।

दुनियाभर में एक लाख से ज़्यादा शरणार्थी बच्चों की सहायता करने के उद्देश्य से पिछले माह की गई इस कोशिश में स्कूलों, कॉरपोरेटों और व्यक्तिगत दानदाताओं की मदद से वेंकटरमन ने 10,975 किलोग्राम स्टेशनरी का सामान जुटाया। इस सामान में 50,000 कापियां, 3 लाख पेन्सिल तथा 2,000 स्कूल बैग थे, इसके अलावा रंगीन पेन्सिलें, शार्पनर, कैंचियां आदि भी शामिल थे। दुबई के अल दियाफा स्कूल में इस काम के लिए 400 वॉलंटियर इकट्ठे हुए थे। इकठ्ठा किये गए सामानों को शरणार्थी कैम्पों तक पहुँचाने की ज़िम्मेदारी एमिरेट्स रेड क्रीसेन्ट ऑर्गेनाइज़ेशन पूरा करेगी।

वेंकटरमन कृष्णमूर्ति कहते हैं, “खुशी से देना इस अभियान का मूलमंत्र है, दुनियाभर के ज़रूरतमंद बच्चों के चेहरों पर मुस्कान लाना ही इस अभियान का मकसद है।” तर्कसंगत सलाम करती है वेंकटरमन के इस सराहनीय कदम को और हम आशा करते हैं कि उनका यह कदम अन्य लोगों को ज़रूरतमंदों की मदद के लिए प्रेरणास्रोत बनेगा।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...