ख़बरें

दिल्ली : सीवर की सफाई के दौरान तीन सफाईकर्मियों की मौत

तर्कसंगत

August 7, 2017

SHARES

दिल्ली के घिटोरनी में सीवर की सफाई के दौरान मौत की घटना को अभी कुछ ही दिन हुए कि दूसरी घटना ने दस्तक दे दी.

मामला दिल्ली के लाजपत नगर का है जहां रविवार को सीवर की सफाई के दौरान जहरीली गैस के चलते तीन सफाईकर्मियों की मौत हो गई.

पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने बताया कि दक्षिणी दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में यह दुर्घटना हुई.

दिल्ली सरकार ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. पुलिस ने दो मृतकों की पहचान खिचड़ीपुर के रहने वाले 32 वर्षीय जोगिंदर और 28 वर्षीय अन्नू के रूप में की है, जबकि 20 वर्ष के आस-पास की आयु के तीसरे मृतक की पहचान नहीं हो सकी है.

बानिया ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची और तीनों को एम्स लेकर गई, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया.

इस बीच दिल्ली के जल मंत्री राजेंद्र गौतम ने ट्वीट किया है, “लाजपत नगर इलाके में सीवर की सफाई के दौरान तीन सफाईकर्मियों की मौत की खबर से बेहद दुखी हूं. मैंने घटना पर जांच बिठा दी है.”

उन्होंने यह भी कहा कि मृतक न तो दिल्ली जल बोर्ड के कर्मचारी थे और न ही दिल्ली जल बोर्ड द्वारा अधिकृत थे.

ऐसा मामला 31 जुलाई को मध्य प्रदेश में भी देखने को मिला था जहां दम घुटने से चार सफ़ाई कर्मचारियों की मौत हो गई थी.

आपको बता दे नियमों के बावजूद भारत में सफाई कर्मचारियों की स्थिति में ज़्यादा परिवर्तन नहीं आया है. यहां बिना किसी सुरक्षा के ही उन्हें सीवर में उतरना पड़ता है.

हर साल हज़ारों सफाई कर्मचारियों की गंदे नालों से निकलने वाली ज़हरीली गैसों की वजह से मौत हो जाती है.

नियम तो यह है कि सीवेज की सफाई करते समय कर्मचारी के पास सूट, मास्क और गैस सिलेंडर होना चाहिए. इनका सूट स्पेसिफिक होता है जो गंदे पानी से कर्मचारियों की सुरक्षा करता है लेकिन उन्हें ये चीज़ें मुहैया नहीं कराई जातीं.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...