ख़बरें

अलवर लिंचिंगः पहलू ख़ान ने जिन अभियुक्तों का मरते हुए नाम लिया, सभी को मिली क्लीन चिट

तर्कसंगत

September 14, 2017

SHARES

राजस्थान के अलवर के चर्चित पहलू ख़ान हत्याकांड में पुलिस ने उन सभी छह नामजद लोगों को क्लीनचिट दे दी है जिनका नाम पहलू ख़ान ने मरते हुए लिया था.

अंग्रेज़ी अख़बार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक अपनी डाईंग डिक्लेरेशन में पहलू ख़ान ने जिन छह लोगों का नाम लिया था उन सबको पुलिस ने अपनी जांच में क्लीन चिट दे दी है.

पेशे से किसान और पशुपालक पहलू ख़ान एक अप्रैल को राजस्थान के जयपुर से दुधारू पशु ख़रीद कर लौट रहे थे तब रास्ते में अलवर के पास कुछ कथित गौरक्षकों ने उनकी गाड़ियां रोक लीं थीं.

इन गौरक्षकों ने पहलू ख़ान और उनके बेटे इरशाद समते साथ में मौजूद अन्य लोगों पर हमला किया था जिसके  दो दिन बाद पहलू ख़ान की अस्पताल में मौत हो गई थी.

पहलू ख़ान पर हमले का वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया था और भारत के कई शहरों में इस हमले के बाद प्रदर्शन हुए थे.

Clean chit given to all 6 accused. Apparently, no one lynched Pehlu Khan. Forget about justice in "New India".

Nai-post ni Prerna Bakshi noong Miyerkules, Setyembre 13, 2017

पुलिस को दिए अपने बयान में पहलू ख़ान ने हमलावरों में हुकम चंद, नवीन शर्मा, जगमाल यादव, ओम प्रकाश, सुधीर और राहुल सैनी के नाम लिए थे.

हालांकि गुरुवार को अलवर के पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश ने बताया है कि इन छह लोगों पर जारी किया गया पांच हज़ार रुपए का ईनाम वापस लिया जाता है क्योंकि राजस्थान पुलिस की सीबीसीआईडी ने अपनी जांच में इन संदिग्धों की भूमिका नहीं पाई है.

हाल ही में राजस्थान सीबीसीआईडी ने अपनी रिपोर्ट अलवर पुलिस को भेजी थी जिसमें इनका नाम रिपोर्ट से हटाने के लिए कहा गया था.

अपनी जांच में सीबीसीआईडी ने पुलिसकर्मियों और गौशाला कर्मियों के बयान दर्ज किए थे.

पुलिस जांच में अभियुक्तों की कॉल रिकार्ड के आधार पर पाया गया कि घटना के वक़्त वो मौके पर मौजूद नहीं थे.

पहलू ख़ान की हत्या के मामले में राजस्थान पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया था जिनमें से पांच को ज़मानत मिल चुकी है.

पहलू ख़ान के परिवार का कहना है कि उन्हें राजस्थान पुलिस से न्याय की उम्मीद नहीं हैपहलू ख़ान का परिवार हरयाणा के मेवात में रहता है

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...