ख़बरें

हिंदी के बारे में कुछ रोचक तथ्य

Poonam

September 14, 2017

SHARES

भारत की संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी को भारतीय गणतंत्र की अधिकारिक भाषा चुना था. तब से ही 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है.

हालांकि हिंदी साल 1965 में ही भारत की अधिकारिक भाषा बन सकी.

साल 1881 में बिहार ने उर्दू की जगह हिंदी को अपनी अधिकारिक राजकीय भाषा बनाया था. बिहार हिंदी को अपनी भाषा बनाने वाला भारत का पहला प्रांत भी बना था.

दुनियाभर में पचास करोड़ से अधिक लोग हिंदी बोलते हैं और ये दुनिया की सबसे ज़्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है.

हिंदी भारत के अलावा मारीशस, फिजी, सूरीनाम, गूयाना, त्रीनिदाद और टोबैगो और नेपाल में भी बोली जाती है.

गुरू, जंगल, कर्मा, योगा, अवतार, बंगला, चीता, लूट, ठग, चटनी, डकैत आदि हिंदी के शब्दों को अंग्रेज़ी में भी इसी रूप में इस्तेमाल किया जाता है.

हिंदी को अपना नाम पारसी शब्द हिंद से मिला है जिसके मायने थे सिंधु नदी का इलाक़ा.

बाज़ार में हिंदी टाइपराइटर साल 1935 में आए थे.

हिंदी की लिपी फ़ोनेटिक है, इसे जैसे लिखा जाता है वैसे ही पढ़ा जाता है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...