सप्रेक

11 साल की गीतांजलि राव ने जीता प्रतिष्ठित वैज्ञानिक अवॉर्ड

तर्कसंगत

October 20, 2017

SHARES

भारतीय मूल की 11 साल की छात्रा गीतांजलि राव ने अमरीका में बेहद प्रतिष्ठि वैज्ञानिक अवॉर्ड जीता है.

गीतांजलि को पानी में लैड (सीसा) के प्रदूषण का पता लगाने के लिए की गई अपनी खोज के लिए ‘टॉप यंग साइंटिस्ट’ अवॉर्ड दिया गया है.

गीतांजलि उन दस प्रतियोगियों में शामिल थीं जिन्हें अपने विचार को विकसित करने के लिए वैज्ञानिकों के साथ तीन महीने का समय बिताने के लिए चयनित किया गया था.

गीतांजलि ने एक ऐसे उपकरण का अविष्कार किया है जो पानी में लैड से होने वाले प्रदूषण का बेहद कम ख़र्च पर पता लगा लेता है.

अब तक लैड से होने वाले प्रदूषण की जांच काफ़ी महंगी होती थी और इसके लिए पानी के नमूनों को लैब में भेजना पड़ता था.

गीतांजलि ने अब ऐसा उपकरण विकसित कर लिया है जिसे पानी के स्रोत तक ले जाया जा सकता है और मोबाइल एप से जोड़कर प्रदूषण की मात्रा का तुरंत पता लगाया जा सकता है.

गीतांजलि का बनाया ये उपकरण कार्बन नैनोट्यूब्स से काम करता है. उन्होंने ग्रीस की साफ़ पानी की देवी टेथीज़ के नाम पर अपने इस उपकरण का नाम रखा है.

गीतांजलि को अवॉर्ड के साथ लगभग 16 लाख रुपए की ईनामी राशि भी दी गई है.

उनका कहना है कि वो अभी अपने उपकरण पर और काम करना चाहती हैं ताकि इसे बाज़ार में सस्ती दर पर उपलब्ध करवाया जा सके.

Source: Business Insider

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...