ख़बरें

उत्तर प्रदेशः ‘मंत्रियों-विधायकों का खड़े होकर अभिवादन करें अफ़सर’

तर्कसंगत

October 21, 2017

SHARES

उत्तर प्रदेश में अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों का खड़े होकर अभिवादन करने के लिए कहा गया है.

अधिकारियों से कहा गया है कि जब भी सांसद, मंत्री या विधायक उनके दफ़्तर आएं तो उनका खड़े होकर अभिवादन किया जाए.

अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों को खड़े होकर विदा करने की हिदायत भी दी गई है.

उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव राजीव कुमार ने सभी अधिकारियों को पत्र लिखकर ये दिशा निर्देश दिए हैं.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक कई विधायकों और मंत्रियों ने ये शिकायत की थी कि जब वो अधिकारियों से मिलने जाते हैं तो उन्हें पूरा सम्मान नहीं दिया जाता है.

हाल ही में राज्यमंत्री राजबीर सिंह ने अपना पद छोड़ देने तक की धमकी दी थी.

राजबीर की शिकायत थी कि गाजीपुर के ज़िलाधिकारी ने उनकी ओर से की गई शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया.

अब मुख्य सचिव की ओर से भेजे गए पत्र में ये भी कहा गया है कि कोई भी अधिकारी सरकारी खर्च पर होने वाले किसी भी कार्यक्रम में मुख्य अतिथि न बनें.

अमर उजाला की एक रिपोर्ट के मुताबिक ये भी कहा गया है कि प्रदेश में डीजीपी भी ओहदे में विधायक से नीचे हैं.

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की नई सरकार बनने के बाद अधिकारियों और नेताओं के बीच टकराव की कई घटनाएं हुई हैं.

पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्यप्रताप सिंह ने सोशल मीडिया पर की एक टिप्पणी में इन दिशा निर्देशों पर सवाल उठाए हैं.

उन्होंने पूछा है कि क्या अब आईएएस-आईपीएस अधिकारियों को गुंडों से नेता बने जन प्रतिनिधियों को भी ये सम्मान मिलना चाहिए?

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...