ख़बरें

आंध्र प्रदेशः दलित प्रेमी की प्रेमिका के सामने पीट-पीटकर हत्या

तर्कसंगत

March 15, 2018

SHARES

आंध्र प्रदेश के कडपा ज़िले में एक ऊंची जाति की लड़की से प्रेम करने वाले दलित युवक की उसकी प्रेमिका के सामने ही पीट-पीटकर हत्या कर दी गई.

ये वारदात 10-11 मार्च की रात कडपा ज़िले के बुद्दयापल्ली गांव में हुई.

पुलिस के मुताबिक 19 वर्षीय वाई विजयकुमार की हत्या के सिलसिले में लड़की के पिता महेश रेड्डी, माता सुबारतना रेड्डी और चाचा सम्बासिवा रेड्डी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

पुलिस के मुताबिक साहित्या डिग्री कॉलेज खाजीपेट में पढ़ने वाले  19 साल के वाई विजयकुमार दो सालों से 18 साल की लड़की से प्रेम करते थे.

लड़की के परिजनों को लगा कि दोनों के बीच बस दोस्ताना संबंध हैं और उन्होंने उसे स्कूल भेजना बंद कर दिया. लेकिन बाद में जब उसके और विजयकुमार के बीच बातचीत के बारे में उन्हें पता चला तो साज़िशन विजय कुमार की हत्या कर दी गई.

पुलिस के मुताबिक अभियुक्तों ने लड़की से फ़ोन करवाकर बात करने के लिए विजयकुमार को अपने घर बुलाया था.

विजयकुमार ने लड़की से शादी करने की इच्छा ज़ाहिर की जिसके बाद छत पर ले जाकर उसकी हत्या कर दी गई.

मारे गए दलित युवक के पिता की कुछ साल पहले मौत हो गई थी और उसकी मां खेतिहर मज़दूर है. जबकि लड़की गांव के अमीर ज़मीदार परिवार की बेटी है.

हाल के दिनों में लड़की विजयकुमार को पत्र लिख रही थी जिसे उसके घरवालों ने पकड़ लिया था. घटना के बाद लड़की को घर में ही नज़रबंद कर दिया गया था.

पुलिस के मुताबिक बावजूद इस सबके लड़की विजयकुमार से ही शादी करना चाहती थी.

पुलिस के मुताबिक जिस समय विजयकुमार की पीट-पीटकर हत्या की गई लड़की भी छत पर ही मौजूद थी. चीखने-चिल्लाने के बाद परिजनों ने उसे नीचे कमरे में बंद कर दिया था.

हत्या को आत्महत्या की तरह दिखाने के लिए शव को पास के ही रेलवे ट्रैक पर भी फेंक दिया गया था. शुरुआत में पुलिस ने इसे आत्महत्या ही माना था.

हालांकि जब विजयकुमार की मां ने उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई तो मामले को खाजीपेट थाना स्थानांतरित कर दिया गया.

पुलिस को विजयकुमार के प्रेम संबंधों के बारे में पता चला और जब लड़की के परिजनों से पूछताछ की गई तो उन्होंने हत्या की बात स्वीकार कर ली.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...