ख़बरें

इसराइली गोलीबारी में चर्चित फ़लस्तीनी नर्स की हत्या

तर्कसंगत

June 2, 2018

SHARES

शुक्रवार को गज़ा सीमा पर इसराइली सैनिकों ने एक चर्चित फ़लस्तीनी नर्स की गोली मार कर हत्या कर दी.

समाचार एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक 21 की रज़ान-अल-नज्जार को दक्षिणी गज़ा के ख़ान यूनुस इलाक़े में गोली मारी गई.

मार्च के बाद से इसराइली सेना की गोलीबारी में अब तक 123 फ़लस्तीनी मारे जा चुके हैं.

फ़लस्तीनी प्रशासन के मुताबिक जिस समय नज्जार को गोली मारी गई उन्होंने स्वास्थ्यकर्मी की पोशाक़ पहनी हुई थी.

नज्जार एक चर्चित नर्स थीं जो प्रदर्शनों के दौरान घायल हुए लोगों का इलाज करते हुए अक्सर दिखा करती थीं.

फ़लस्तीनी प्रशासन का आरोप है कि नज्जार को निशाना बनाकर सीने पर गोली मारी गई है.

वहीं इसराइली सेना का कहना है कि वो इन आरोपों की जांच कर रही है.

इसराइली सेना ने कहा है कि हज़ारों प्रदर्शनकारी पांच स्थानों पर इकट्ठा हुए थे और सुरक्षा व्यवस्था को ख़तरा पहुंचाने की कोशिश कर रहे थे.

अमरीका के अपने दूतावास को तेल अवीव से यरूशलम लाने के बाद से इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच तनाव बढ़ गया है.

मंगलवार को गज़ा की ओर से इसराइल पर रॉकेट दागे जाने के बाद से इसराइल ने हमास के 55 ठिकानों पर हवाई हमले किए हैं.

इसराइल साल 1948 में अस्तित्व में आया था और तब से ही फ़लस्तीनियों और इसराइल के बीच तनाव है.

फ़लस्तीनियों का इस समय अपना कोई देश नहीं है जबकि बीते 70 सालों में इसराइल एक अमीर और शक्तिशाली राष्ट्र के तौर पर उभरा है.

फ़लस्तीनी प्रदर्शनकारी अपने पूर्वजों की छोड़ी गई ज़मीन पर अधिकार और अपने स्वतंत्र राष्ट्र के निर्माण की मांग करते हैं.

गज़ा एक बेहद भीड़भाड़ वाला इलाक़ा है जो ज़मीन, आसमान और समुद्र की ओर से इसराइली घेराबंदी में हैं.

यहां आने और जाने के लिए इसराइल की अनुमति लेनी होती है.

हालांकि यहां का प्रशासन फ़लस्तीनियों के हाथ में ही है लेकिन घेराबंदी और बेहद सीमित क्षेत्रफल की वजह से ये एक बेहद पिछड़ा इलाक़ा है जहां कि आबादी खाने-पीने जैसी मूल चीज़ों के लिए भी संघर्ष करती है.

इसकी तुलना में इसराइल एक उन्नत और विकसित राष्ट्र है जिसके पास दुनिया के सबसे ताक़तवर और प्रभावशाली हथियार है रक्षा प्रणालियां हैं.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...