Uncategorized

अपर्णा कुमार: अंटार्टिका की सबसे ऊँची पर्वत चोटी पर तिरंगा लहराने वाली भारत की पहली अफसर बिटिया

tsgt-superman

May 11, 2016

SHARES
चित्र स्रोत: ट्विटर 

अपर्णा कुमार ने अंटार्टिका उप महाद्वीप की सबसे ऊँची पर्वत चोटी, माउंट विन्सन मैसिफ(1700 फिट ऊँची) को अपने अथक प्रयासों और दृढ़ निष्चय से झुका दिया। ऐसा करने वाली वो भारत की पहली महिला अफसर बन गईं।

2002 बैच की अपर्णा ने अपना यह चुनौतियों भरा सफर 5 जनवरी को 10 और साथियों के साथ शुरू किया था, जो विभिन्न देशों से थे। 17 जनवरी को उनके साहस और हौसले की जीत हुई और उन्होंने माउंट विन्सन पर तिरंगा लहराया और उत्तर प्रदेश पुलिस सेवा का भी झंडा फहराया।

अपर्णा अभी लखनऊ में डीआईजी(दूरसंचार) के पद पर तैनात हैं और इस पर्वत को जीतने से पहले उन्होंने और भी कई पर्वतों को अपने हौसलों से पराजित किया है। उनके द्वारा जीती चोटियों के नाम हैं-

1) माउंट किलिमंजारो, तंज़ानिया, जो अफ्रीका का सबसे ऊंचा पर्वत है।
2) माउंट अकोनकागुआ , दक्षिण अमरीका।
3) माउंट एल्ब्रस, रूस।

पहाड़ों की बरफ़ीली हवाओं ने और शून्य से काम तापमान ने भी अपर्णा के हौसलों को टूटने नहीं दिया। इस असंभव से लगने वाले कार्य को करने में उनका स्वस्थ ज़रूर ख़राब हुआ और ठण्ड भी लगी पर इससे उनके इरादों पर आँच भी नहीं आई और उन्होंने माउंट विन्सन पर अपने कदमों के निशान हमेशा के लिए छोड़ दिए।

अपर्णा को इस कामयाबी से पहले मार्च 2014 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, अखिलेश यादव द्वारा रानी लक्ष्मी बाई पुरस्कार भी प्राप्त हुआ और इस वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर उनको पुलिस महानिदेशक के प्रशंसा चिन्ह से भी पुरुस्कृत किया गया।

अक्टूबर 2013 में अटल बिहारी वाजपेयी इंस्टीट्यूट ऑफ़ माउंटेनियरिंग, मनाली से पर्वतारोहण में पढ़ाई करके उन्होंने अगली साल 2014 में उसी विषय में वहीँ से एडवांस कोर्स भी किया। उसके बाद इस वीरता की मूर्ती ने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा और कई पर्वतों को झुका दिया। इस कामयाबी के बाद अपर्णा एवेरेस्ट पर्वत के लिए कमर कस रही हैं।

तर्कसंगत अपर्णा के हौसले और निष्चय को सलाम करता है और आशा करता है कि वो जल्द ही एवेरेस्ट पर तिरंगा फहराएंगी।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...