ख़बरें

एक पीसीएस अधिकारी जो अपने काम के लिए गंभीर है

तर्कसंगत

July 7, 2017

SHARES

उत्तर प्रदेश के अमरोहा ज़िले में तैनात एक उपज़िलाधिकारी अपने अनूठे अंदाज़ से लोगों का दिल जीत रहे हैं.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक एसडीएम गंभीर सिंह लोगों को यातायात सुरक्षा के प्रति गंभीर करने के लिए अपनी ओर से ही हेलमेट बांट रहे हैं.

तर्कसंगत के साथ बातचीत में गंभीर सिंह ने कहा, “ट्रैफ़िक जांच के दौरान हेलमेट के बिना चल रहे लोगों का चालान काटने के बजाए हम उनसे अपने और एक अन्य व्यक्ति के लिए हेलमेट ख़रीदने का वादा करवा रहे हैं.”

वो कहते हैं इस तरह दो लोगों को हेलमेट मिल जाता है.

गंभीर सिंह कहते हैं कि कई बार उन्हें अपनी ओर से भी हेलमेट देना पड़ता है. तीन महीने पहले कार्यभार संभालने वाले गंभीर सिंह के मुताबिक वो अब तक क़रीब सौ लोगों को हेलमेट दिला चुके हैं.

यही नहीं गंभीर सिंह अपने कार्यक्षेत्र में शिक्षा के प्रति भी लोगों को जागरुक कर रहे हैं.

Nai-post ni Gambhir Singh noong Miyerkules, Hulyo 5, 2017

मूलरूप से बिजनौर ज़िले के सहसपुर गांव के रहने गंभीर सिंह ने तर्कसंगत से बातचीत में कहा, “आज जब मंदिर-मस्जिद के मुद्दे शिक्षा, स्वास्थ्य और सड़क जैसे गंभीर मुद्दों पर हावी हो गए हैं तब ज़रूरत है कि प्रशासनिक अधिकारी सिर्फ़ अपने कार्य के समय ही नहीं बल्कि निजी प्रयासों से भी शिक्षा के प्रति लोगों को जागरुक करें.”

गंभीर सिंह स्थानीय युवाओं को शिक्षा के लिए प्रेरित करते हैं और उनकी हरसंभव मदद की कोशिश करते हैं.

वो कहते हैं कि हम सरकारी या निजी माध्यमों से जिस भी छात्र की मदद करते हैं उससे आगे दो अन्य छात्रों की पढ़ाई में मदद करने का आश्वासन लेते हैं.

गंभीर सिंह कहते हैं, “ऐसा करके हम मदद के सिलसिले को आगे बढ़ा देते हैं.”

गंभीर सिंह कहते हैं, “जब तक शिक्षा की पहुंच भारत के हर नागरिक तक नहीं होगी तब तक देश को सही अर्थों में विकसित नहीं किया जा सकता. ”

गंभीर सिंह के मुताबिक वो प्रतिमाह अपनी आय का दस प्रतिशत स्थानीय छात्रों की शिक्षा ज़रूरतों पर ख़र्च करते हैं.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...