ख़बरें

बिरयानी में निकली ‘छिपकली’,वेज नहीं है रेलवे की ‘वेज बिरयानी’

तर्कसंगत

July 26, 2017

SHARES

मंगलवार को पूर्वा एक्सप्रेस में दिए गए खाने में मरी हुई छिपकली मिली. श्रद्धालुओं का एक ग्रुप झारखंड से यूपी के लिए सफर कर रहा था कि तभी उन्हें वेज बिरयानी परोसी गई, जब ट्रेन पटना के नजदीक थी. इसमें मरी हुई छिपकली मिली. एक व्यक्ति बीमार भी पड़ गया.

बक्सर स्टेशन के करीब यात्री ने रेल मंत्री, रेल मन्त्रालय को ट्विटर पर खाने में छिपकली निकलने की शिकायत की. जिसके बाद मुग़लसराय स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने पर डीआरएम सहित आलाधिकारी यात्रियों का हाल लेने पहुंचे. अधिकारियों ने यात्रियों को दवाई देकर ट्रेन को रवाना किया.

मीडिया रिपोर्टस की मानें, तो यात्री ने खाने में वेज बिरयानी ऑर्डर की थी. रेलवे ने इसके बाद 48 घंटे का नोटिस दिया था, जिसके बाद पूर्वा एक्सप्रेस के केटरिंग कॉन्ट्रेक्ट से बर्खास्त कर दिया है.

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने इस मामले पर लोकसभा में बयान दिया और कहा कि दोषी ठेकेदार को हटा दिया गया है. जल्द ही सरकार रेलवे के लिए नई कैटरिंग पॉलिसी लाएगी.

आपको बता दें हाल ही में रेलवे में सफर के दौरान मिलने वाले खाने को लेकर सीएजी ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया था. सीएजी रिपोर्ट में कहा गया था कि रेल का खाना साफ सफाई, गुणवत्ता के पैमाने पर खरा नही उतरता. इसके अलावा ट्रेन में बिक रही चीजों के बिल न दिए जाने और फूड क्वॉलिटी में कई तरह की खामियों की भी शिकायतें हैं.

सीएजी और रेलवे की ज्वाइंट टीम ने 74 स्टेशनों और 80 ट्रेनों का मुआयना करने के बाद इस रिपोर्ट को तैयार किया है. कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि रेल में यात्रियों को दी जा रही खाद्य वस्तुओं के संबंध में ठेकेदारों ने कीमतों के साथ समझौता किया और गुणवत्ता मानकों पर ध्यान नहीं दिया.

ऐसा नहीं है कि रेलवे के खाने को लेकर पहली बार सवाल उठे हों, इससे पहले भी कई बार रेल में खराब खाना मिलने की शिकायत मिलती रही है. बावजूद खाने की क्वालिटी में कोई सुधार नहीं हुआ.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...