ख़बरें

अमित शाह की रैली के लिए मंगाई स्कूली बसें, छुट्टी

तर्कसंगत

August 5, 2017

SHARES

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा के रोहतक का दौरा किया.

लेकिन उनके इस दौरे की वजह से स्कूली बच्चों को परेशानी उठानी पड़ी.

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक अमित शाह की रैली के लिए प्रशासन ने बसों को बुला लिया इस वजह से कई स्कूलों को छुट्टी करने के लिए मजबूर होना पड़ा.

राज्य में राजनीतिक रैलियों में स्कूली बसों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध के बावजूद प्रशासन ने अमित शाह की रैली में स्कूली बसों का इस्तेमाल किया.

राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राम निवास ने हरियाणा और पंजाब हाई कोर्ट में दायर शपथपत्र में कहा था कि सभी संबंधित विभागों को स्कूली बसों के रैलियों में इस्तेमाल को रोकने के लिए निर्देश जारी किए गए थे.

स्कूल प्रबंधन को अपनी बसों को रैली में भेजने के लिए मजबूर करना मोटर व्हिकल एक्ट 1988 के प्रावधानों का उल्लंघन भी है.

हालांकि रोहतक में ज़िला प्रशासन ने ही सरकार के नियमों की धज्जियां उड़ा दीं.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक बसें उपलब्ध न होने की वजह से स्कूलों ने अभिभावकों को बच्चों की छुट्टी के बारे में जानकारी देने के लिए टेक्स्ट संदेश भेजे थे.

स्कॉलर्स रोज़री स्कूल के निदेशक अख़बार को बताया, “रैली के लिए प्रशासन ने हमारी बसें मांगी थी. इस वजह से हमारे स्कूल सहित कई स्कूलों में छुट्टी करनी पड़ी.”

हालांकि जब तर्कसंगत ने स्कूल प्रबंधन से इस बारे में बात करने की कोशिश की तो उन्होंने बात करने से इनकार कर दिया.

कई स्कूलों की बसों का इस्तेमाल अमित शाह की रैली में कार्यकर्ताओं को लाने के लिए गया था.

वहीं ज़िले के पुलिस अधीक्षक पंकज नैन का कहना था कि पुलिस विभाग ने स्कूलों की बसों का इस्तेमाल नहीं किया था.

उन्होंने ये भी कहा कि रैली की वजह से शहर के यातायात में कोई परेशानी नहीं आई.

बीते साल आठवीं क्लास के एक बच्चे ने पत्र लिखकर प्रधानमंत्री मोदी से कहा था कि प्रशासन स्कूलों की बसों को रैलियों के लिए इस्तेमाल न करे.

मध्य प्रदेश के अलीराजपुर के इस छात्र के स्कूल की बसों को प्रधानमंत्री की रैली में इस्तेमाल किया गया था.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...