ख़बरें

‘हमारी इज्जत चली गई है हम मरे हुए के समान हैं, अब जीकर क्या करेंगे?’

तर्कसंगत

August 8, 2017

SHARES

भारत के अलगअलग हिस्सों से लगातार भीड़ की हिंसा और वीडियो बनाने की ख़बरें आ रही हैं.

ताज़ा मामला झारखंड का है जहां एक युवती पर मोबाइल चुराने का आरोप लगाकर उसे नंगा करके पीटा गया है और वीडियो बनाया गया है.

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने घटना का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों से चौबीस घंटों में रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा है.

मामला दुमका ज़िले का है जहां एक कॉलेज की छात्रा पर साथी छात्राओं ने मोबाइल चुराने का आरोप लगाया और फिर हॉस्टल में पंचायत कर उसके साथ हिंसा की गई.

दुमका के कमिश्नर मुकेश कुमार ने बीबीसी से कहा है कि मामले की जांच के लिए एक एसडीएम स्तर की महिला अधिकारी के नेतृत्व में तीन सदस्यीय जांच दल गठित कर दिया गया है.

दुमका के संथाल परगना महिला कॉलेज के आदिवासी हॉस्टल की छात्राओं ने अपनी ही एक सहपाठी को नंगा करके पीटा और उसकी वीडियो क्लिप सोशल वेबसाइटों पर डाल दी.

मेरी इज्जत चली गई है

पीड़िता ने बीबीसी से कहा, “मुझे हॉस्टल में एक दिन और एक रात रखा गया. इस दौरान मुझे नंगा करके पीटा गया और घुमाया गया. मेरे मना करने के बावजूद उन्होंने मेरा वीडियो बनाया और इसे वायरल करने की धमकी दी. मेरी इज्ज्त चली गई है और अब मैं मरे हुए के समान हूं. अब मैं जीकर क्या करूंगी?”

वहीं सेलीना के पिता का कहना है कि उनकी बेटी के हॉस्टल में पंचायत की गई और उस पर 18600 रुपए का जुर्माना लगाया गया.

उन्होंने कहा, “मैंने ये पैसे चुकाने के लिए पच्चीस अगस्त तक का समय मांगा था ताकि बैल बेचकर पैसों का जुगाड़ कर सकूं. लेकिन उन लोगों ने मेरी बेटी की नंगी फोटो इंटरनेट पर डाल दी.”

दुमका पुलिस ने लड़की के वीडियो को वायरल होने से रोकने के लिए प्रयास किए हैं. हालांकि ये कई जगह डाला चुका है.

पुलिस का कहना है कि इस संदर्भ में सोमवार को ही मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है.

Source: BBC Hindi, Pic Credit: BBC Hindi


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...