ख़बरें

81 लाख आधार कार्ड हुए रद्द, आपका नंबर भी हो सकता है इसलिए तुरंत करें चेक

तर्कसंगत

August 17, 2017

SHARES

अभी हाल ही में सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुये 11.44 लाख PAN कार्ड रद्द किये थे ठीक वैसे ही भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण की तरफ से 81 लाख के करीब आधार नंबर को निष्क्रिय कर दिया गया है. इलेक्ट्रोनिक व सूचना प्रौधोगिकी राज्य मंत्री पी पी चौधरी ने राज्यसभा में इस बात की जानकारी दी.

केंद्रीय मंत्री पी पी चौधरी ने राज्यसभा में बताया की अभी तक लगभग 81 लाख के करीब आधार नंबर को रद्द कर दिया गया है. उन्होंने कहा की आधार नंबर कई कारणों से रद्द किये गये हैं जिनका जिक्र आधार एनरॉलमेंट ऐंड अपडेट रेग्युलेशंस, 2016 के सेक्शन 27 और 28 में है.  इसके तहत अगर किसी व्यक्ति को एक से ज्यादा आधार नंबर जारी हो गया है या उसके बायोमेट्रिक डेटा और सपोर्ट्रिंग डॉक्युमेंट्स में कुछ गड़बड़ी हो तो उसका आधार नंबर बंद किया जा सकता है. UIDAI के क्षेत्रीय कार्यालयों को आधार नंबर निरस्त करने का आधिकार है.

आपको बता दें की 5 साल से कम उम्र के बच्चे का आधार कार्ड बनवाया गया है तो उसके 5 साल पूरे होने पर 2 साल के अंदर बायोमेट्रिक डेटा को अपडेट करना होगा और बच्चे के 15 साल पूरे होने पर भी ऐसा करना अनिवार्य है. ऐसा नहीं करने से आधार नंबर रद्द हो सकता है.

अगर अपने आधार कार्ड का लगातार तीन सालों तक इस्तेमाल नहीं किया तो आधार नंबर को जारी करने वाली संस्था इसे ब्लॉक कर सकती है. इसलिए सरकार ने कहा है कि आधार नंबर जारी होने के बाद इसका इस्तेमाल जरूर कर लें ताकि ये ब्लॉक न हो.

अपने आधार कार्ड को बैंक अकाउंट से लिंक करा सकते हैं. अगर आईटीआर भरते हैं तो फिर अपने पैन कार्ड से इसे लिंक करा दें. नया पैन कार्ड बनवाना हो तो फिर अपना आधार नंबर जरूर दें या फिर नया मोबाइल कनेक्शन लेने के लिए आधार का प्रयोग कर लें. इससे आपका आधार नंबर एक्टिव रहेगा और फिर ब्लॉक नहीं होगा.

आपका आधार नंबर एक्टिव है या नहीं ये जानने के लिए UIDAI की वेबसाइट पर जाकर वैरिफाई आधार नंबर पर क्लिक करें. वहां पर अपना आधार नंबर और सिक्युरिटी कोड डालें. कोड डालने के बाद अगर वेबसाइट पर हरा निशान आता है, तो इसका मतलब है कि आपका आधार एक्टिव है. इसके बाद स्क्रीन पर आपकी सारी डिटेल आ जाएगी.

आधार नंबर के ब्लॉक होने की स्थिति में फिर से आधार केंद्र पर जाना होगा, जहां फॉर्म भरके अपने बॉयोमेट्रिक्स भी देने होंगे. इसके साथ ही अपना मोबाइल नंबर भी देना होगा. पहले वाली बॉयोमेट्रिक्स और दोबारा से ली गई बॉयोमेट्रिक्स डिटेल्स को मैच करने के बाद आपका आधार नंबर फिर से एक्टिव हो जाएगा. इसके लिए आपसे 25 रुपये फीस के तौर पर देने होंगे. आधार  अपडेशन के लिए आपको आधार केंद्र पर ही जाना होगा क्योंकि ये काम ऑनलाइन या किसी और तरीके से नहीं हो सकता है.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...