ख़बरें

लड़की ने किया प्यार, पंचायत ने परिवार को गांव से निकाला

Poonam

September 7, 2017

SHARES

उत्तर प्रदेश के आगरा में एक लड़की के गांव के एक लड़के के साथ चले जाने के बाद पंचायत ने लड़की के परिवार को गांव से निकलने का फरमान सुना दिया है.

मामला आगरा के थाना कागारोल के सोनिगा नाम के गांव का है जहां की एक नाबालिग लड़की गांव के ही एक लड़के के साथ चली गई.

इसके बाद गांव में पंचायत करके लड़की के परिजनों को गांव छोड़कर जाने का फरमान सुनाया गया है.

गांव न छोड़ने की स्थिति में मकान ढहा देने की धमकी भी दी गई है.

स्थानीय अख़बार अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक किशोरी जिस युवक के साथ गई है गांव में उसका परिवार प्रभावशाली है और अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर उन्होंने परिवार को गांव छोड़ने का आदेश पंचों से दिलवाया है.

वहीं गांव के लोगों का कहना है कि लड़की और लड़का एक ही गौत्र के हैं इस वजह से पंचायत ने ये फ़ैसला लिया है.

गांव के प्रधान ने स्थानीय मीडिया से पंचायत के आदेश की पुष्टि की है.

किशोरी के पिता की ओर से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कार्यालय में दियए गए शिकायती पत्र में बताया गया है कि ये कथित पंचायत मंगलवार को हुई थी.

उत्तर भारत में किसी पंचायत का इस तरह से तुगलकी फरमान सुनाकर किसी परिवार को अपमानित करना कोई नई बात नहीं है.

आज के दौर में भी पंचायतें इस तरह के फरमान सुना पा रहीं हैं ये कहीं न कहीं क़ानून व्यवस्था की ही नाकामी हैं.

इस मामले में लड़के के साथ अपनी मर्ज़ी से गई लड़की की उम्र 17 साल है. उसके पिता ने लड़के और उसके चार साथियों के ख़िलाफ़ अपहरण का मुक़दमा दर्ज करा दिया है.

मामले में जो भी कार्रवाई हो वो पुलिस को करनी चाहिए न कि गांव या बिरादरी की पंचायत को किसी एक परिवार को इस तरह से बहिष्कृत करने देने दिया जाना चाहिए.

तर्कसंगत स्थानीय प्रशासन से इस मामले में हस्तक्षेप करने की अपील करता है.

Source: Amar Ujala


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...