ख़बरें

लंबी दूरी के रिश्ते की कुछ कमियां हैं तो कुछ अच्छाइयां भी. दूरी परेशान करती है लेकिन साथ होने पर अनुभव बहुत ख़ास होता है.

तर्कसंगत

October 12, 2017

SHARES

हम सालों से पारिवारिक दोस्त थे लेकिन हमारे बीच कोई लंबी मुलाकात नहीं हुई थी. फिर हम एक शादी में मिले, कुछ वक़्त साथ बिताया और उसके बाद दोस्त की तरह एक दूसरे के संपर्क में रहे. हम दोनों में से किसी को नहीं पता कि ये कब और कैसे हो गया लेकिन हम एक दूसरे के बहुत करीब आ चुके थे और कुछ महीने बाद हमने डेटिंग शुरू कर दी. अब हमारे रिश्ते को छह साल हो चुके हैं.

मुझे लगता है कि हमारे रिश्ते की सबसे मुश्किल चीज़ है दूरी. मैं मुंबई से हूं और वो अहमदाबाद से है. ईमानदारी से कहूं तो लंबी दूरी के इस रिश्ते की कुछ कमियां हैं तो कुछ अच्छाइयां भी.  दूरी परेशान करती है. लेकिन जब हम मिलते हैं तब यह बहुत ख़ास होता है.

हम फ़ोन पर वीडियो कॉल करते हैं, एक दूसरे को संदेश भेजते रहते हैं लेकिन ख़ास बात ये है कि हम दोनों ही इस दूरी के बावजूद इस रिश्ते को कामयाब बनाए रखना चाहते हैं.

कुछ साल पहले हम दोनों की किसी बात को लेकर अनबन हो गई थी और मैंने उनसे कह दिया था कि अब ब्रेक अप कर लेते हैं. मैं तो निश्चिंत ही हो गई थी कि अब हम कभी दोबारा साथ नहीं आएंगे. लेकिन उन्होंने कभी यह दिखाना बंद नहीं किया वो मेरा कितना ख़्याल रखते हैं.

वो बहुत संयमित थे और उन्होंने मुझे पूरा समय दिया ताकि मैं अपने लिए चीज़ों को बेहतर तरीके से समझ सकूं. कुछ सप्ताह बाद ही मुझे अहसास हो गया कि मैं उन्हें मिस करती हूं.  मुझे ये भी अहसास हुआ कि हम दोनों के  अलग होने का कोई कारण भी नहीं है.

मैं जानती हूं कि उस समय मैं अपने बहुत अच्छे रूप में नहीं थी बावजूद इसके वो मेरा ध्यान रखते रहे. यही वो बात है जो मैं कभी नहीं भूलूंगी.

लंबी दूरी की सबसे ख़ास यादें क्या हैं

हम दोनें साथ में कोई किताब पढ़ना शुरू करते हैं और जब वो ख़त्म हो जाती है तो उस पर चर्चा करते हैं. हाल ही में हर सोमवार को हम एक साथ गेम ऑफ़ थ्रोंस का नया एपिसोड देखा करते थे. हम शो की हर छोटी छोटी बात पर आपस में चर्चा किया करते थे.

ये बहुत ख़ूबसूरत अहसास है. भले ही हम शारीरिक तौर पर साथ नहीं हों लेकिन हम एक दूसरे से जुड़े हुए हैं. हम बहुत सी चीज़ें साथ मिलकर करते हैं. हम किसी न किसी तरह हमेशा एक दूसरे से कनेक्टेड रहते हैं.

भविष्य को लेकर क्या उम्मीदे हैं?

यही कि हम दोनों एक दूसरे को डेट करते रहें. ज़िंदगी के हर दौर में एक दूसरे के साथ रहें. मतभेदों के बावजूद एक दूसरे के साथ चलते रहे हैं और शायद साथ में ही बूढ़ें हों.

“We’ve been family friends for years before we properly even met. We reconnected at a wedding, clicked and kept in…

Humans of Bombay 发布于 2017年10月11日


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...