ख़बरें

सात साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या, भाई ने पिता पर ज़ाहिर किया शक़

Poonam

November 26, 2017

SHARES

बलात्कार की कुछ ख़बरें राष्ट्रीय मीडिया में सुर्ख़ियां बनती हैं तो कुछ अख़बारों में सिंगल कॉलम में ख़त्म हो जाती हैं.

कई बार पीड़ित समाज के बेहद कमज़ोर वर्ग से होती हैं इसलिए भी मामले को गंभीरता से नहीं लिया जाता.

लेकिन ये घटनाएं वो आइना हैं जिनमें हमारे समाज का ख़ौफनाक़ सच हमें दिखता है.

ऐसी ही एक ख़बर आई है आगरा से जहां एक सात साल की बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई.

शरीर में सिरहन पैदा कर देने वाली बात ये है कि बलात्कार और हत्या का आरोप बच्ची के पिता पर ही लगा है.

आगरा के एत्मादपुर थाना इलाक़े में एक सात साल की मासूम बच्ची का शव एक स्कूल में मिला.

बच्ची के जिस्म पर नाखूनों से नोंचने और दांतों से काटने के निशान थे. पुलिस का कहना है कि हत्या बलात्कार के बाद की गई है.

लेकिन बच्ची के पंद्रह वर्षीय भाई जो बयान पुलिस को दिया है उसने सबको चौंका दिया है.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची के भाई ने पुलिस को बताया है कि उसकी बहन की बलात्कार के बाद हत्या उसके पिता ने ही की है.

लड़के के मुताबिक उसके पिता ने उसके साथ भी बलात्कार किया था जिसके बाद से वो अपने पिता से अलग सोने लगा था.

लड़के के बयान के बाद पुलिस ने पिता को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ कर रही है.

आगरा के पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने मीडिया से कहा है कि वारदात में बच्ची के किसी करीबी का हाथ है जिसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

आगरा की झुग्गी झोपड़ी में रहने वाली इस बच्ची की मौत की कहानी अख़बार के भीतर के पन्नों पर ख़त्म हो जाएगी.

शायद कल इस पर कोई बात भी न करे. ये बच्ची भारत की बेटी नहीं बन पाएगी. जिसके बारे में उसके अपने पिता ने नहीं सोचा, उसके बारे में और कौन क्या सोचेगा?

लेकिन कड़वा सच ये है कि वो बच्ची भारत की ही बेटी थी लेकिन भारत एक राष्ट्र के तौर पर उसे सुरक्षित माहौल मुहैया नहीं करा पाया.

हमारे देश में अपने ही घर में असुरक्षित बच्चों के लिए कोई विकल्प या सरकारी राहत नहीं है.

बच्चों को सामाजिक सुरक्षा देने में अभी भारत को बहुत समय लगेगा. अभी ये कोई मुद्दा भी नहीं है.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...