ख़बरें

दस करोड़ ग़रीब परिवारों को मुफ़्त इलाज देने वाली योजना मंज़ूर

तर्कसंगत

March 21, 2018

SHARES

केंद्रीय मंत्रीमंडल ने बुधवार को देश की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत मिशन को मंज़ूरी दे दी.

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली केंद्रीय कैबिनेट ने नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन मिशन को मंज़ूरी दे दी है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस योजना की घोषणा सालाना बजट में की थी. इसे दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना कहा जा रहा है.

इस योजना के तहत प्रत्येक परिवार को सालाना पांच लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराया जाएगा.

इस योजना के दायरे में देश के दस करोड़ ग़रीब और पिछड़े परिवार आएंगे. पहले से चल रही राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और सीनियर सिटिज़न हेल्थ इंश्यूरेंस योजना इस नई योजना में ही शामिल कर ली जाएंगी.

इस योजना के दायरे में आने वाले परिवारों के अस्पताल में भर्ती होने के पहले और बाद के ख़र्चों को भी बीमे में शामिल किया जाएगा.

यही नहीं अस्पताल लाए ले जाने के एवज में एक निर्धारित यातायात भत्ता भी योजना के तहत दिया जाएगा.

इस योजना का फ़ायदा देश में कहीं भी उठाया जा सकेगा. यही नहीं लाभार्थी योजना के पैनल में शामिल किसी भी सरकारी या निजी अस्पताल में इलाज करा सकते हैं.

गांव में एक कमरे के कच्चे मकानों में रहने वाले सभी परिवार इस योजना के दायरे में आएंगे. ऐसे परिवार जिनमें 16 से 59 वर्ष के सदस्य नहीं हैं वो भी इसके दायरे में होंगे.

यही नहीं अनुसूचित जाति और जनजाति के परिवार और मज़दूरी करके पेट पालने वाले परिवार भी योजना के दायरे में शामिल होंगे.

प्रेस सूचना कार्यालय की ओर जारी बयान में शहरी क्षेत्र के ग़रीबों की 11 श्रेणियां निर्धारित की गईं हैं जिनके तहत आने वाले परिवारों को मुफ्त इलाज़ मुहैया कराया जाएगा.


Contributors

Edited by :

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...