मेरी कहानी

निथ्या रमेश : आइस स्केटिंग का उभरता सितारा जिसने दुनिया में भारत का नाम रोशन किया

Kumar Vibhanshu

August 28, 2018

SHARES

हमारे देश के  अधिकांश खिलाड़ी  जो क्रिकेट से अलग  कोई भी खेल खेलते हैं, वे अक्सर अपनी मान्यता प्राप्त करवाने में विफल रहते हैं। निथ्या रमेश एक ऐसी ही खिलाड़ी हैं। प्रतिष्ठित यूरोपीय ओपन चैंपियनशिप में आइस स्केटिंग में कांस्य पदक जीतने के बाद, वह बेलारूस से भारत लौट आई,  मगर एयरपोर्ट पर उनके स्वागत के लिए एक ड्राइवर के अलावे कोई भी नहीं था।

भारतीय तिरँगे से सजे ट्रैकसूट पहने हुए निथ्या रमेश को हवाई अड्डे पर देखा गया था। वंदना बांगरा, नामक  एक सहयात्री ने उसे प्लेन पर देखा, अपनी जिज्ञासा को रोके रखने मे असमर्थ आख़िरकार वंदना ने कन्वेयर बेल्ट के पास युवा लड़की से संपर्क किया। तब वंदना को पता चला कि यह लड़की वास्तव में आइस-स्केटिंग चैंपियन थी। उन्हें प्राप्त होने वाले साधारण स्वागत से छुब्ध, वंदना ने अपने अनुभव को साझा करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया।

वंदना ने लिखा, “मुझे यह देखकर दुःख हुआ कि जिस युवा लड़की ने अपने देश के लिए सम्मान अर्जित किया है उसके स्वागत में केवल एक ड्राइवर खड़ा था। साथ ही, गर्व महसूस किया कि भारत एक ऐसे खेल में दुनिया में अपनी पहचान बना रहा है जो भारत में इतना लोकप्रिय नहीं है।

वंदना के इस अनुभव को सोशल मीडिया पर काफी पसंद किया गया । इसे अब तक 64,000 लाइक्स मिले हैं और इसे 27,000 से अधिक बार शेयर किया गया है। लोगों ने निथ्या रमेश को प्रोत्साहित करने के लिए अपने कमैंट्स भी दिए हैं ।

निथ्या एक उदाहरण है कि इस छोटी उम्र में देश के लिए इस तरह के महान पुरस्कार प्राप्त करना कोई छोटी बात नहीं है। केवल मेडल नहीं बल्कि  देशवासियों से प्राप्त प्रोत्साहन है जो एक खिलाड़ी को बढ़ावा देता है और इसलिए, यह बेहद वांछनीय है कि खेल मंत्रालय इस तरह के खेलों को लोकप्रिय बनाने के लिए भी काम करता रहे । हम, आम जनता को ऐसे उभरते प्रतिभा को प्रोत्साहित करने की भी कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि वे एक उज्जवल राष्ट्र का भविष्य हैं।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...