मेरी कहानी

मेरी कहानी : मैंने एक दुकानदार से एक छोटी बच्ची को तम्बाकू खरीदने से रोका

तर्कसंगत

October 2, 2018

SHARES

कल, मैं दिल्ली में एक सड़क पार कर रही थी तभी एक पान का दुकान देखा जहां आठ या नौ वर्षीय लड़की (फटे कपड़े में) कुछ तम्बाकू उत्पाद खरीद रही थी।

समय बर्बाद किए बिना, मैंने दुकानदार को रोकने के लिए तस्वीर ले लिया यह देखकर वह डर गया और मुझे लड़की ने बताया कि वह खुद के लिए खरीद रही थी। मैंने लड़की का पीछा किया, उसे दुकान में ले गयी और उसने मुझे बिना किसी हिचकिचाहट के बताया कि वह इसे खुद खाती है।
मैंने उस सड़क पर खड़े पुलिस अधिकारी को बुलाया, और उम्मीद के अनुसार, उसने इस मामले को रफ़ा दफ़ा करने को कहा। बदले में, मैंने उससे पूछा, अगर उसकी बेटी ने ऐसा किया तो वह क्या करेगा? उसने स्थिति को समझा और दुकानदार को चेतावनी दी।
मैंने प्यार से लड़की को अपने पास बुलाया और इंटरनेट पर अनेक कैंसर रोगियों को दिखाया। मैंने उसे यह भी बताया कि इन बुरी आदतों के कारण मेरे पिताजी को कैंसर हो गया और मैंने उनको खो दिया। उसने मेरी बात को भली भांति समझा और पैकेट लौटा दिया। मैंने उसे धन्यवाद दिया और उसे एक मुस्कान के साथ चॉकलेट भी दिया।
मैं इस बुरी आदत को कम करने के लिए अपने जान पहचान में हर किसी से अनुरोध करती हूँ (कम से कम युवाओं में)। यह किसी को दुःख पहुँचाने के लिए नहीं बल्कि किसी को बचाने के बारे में है।

सतर्क रहे और अमल करें। इससे आपको कुछ भी नहीं जायेगा लेकिन कुछ जीवन बच सकते हैं।

कहानी : किरण वर्मा

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...