सचेत

ज़ोमैटो डिलिवरी बॉय ने ग्राहक के भोजन को जूठा किया: इस घटना के और पहलु क्या हो सकते हैं

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter

December 14, 2018

SHARES

एक हालिया वीडियो में ज़ोमैटो के डिलीवरी बॉय को किसी ग्राहक द्वारा आर्डर किया गया खाना खुद खाते हुए देखा गया है, यह वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया है। जैसा की इस तरह की घटना में अक्सर होता है ज़ोमैटो पर लोगों ने सवाल उठाये, और उस आदमी को नौकरी से निकालने के लिए भी कहा। कंपनी ने कहा कि वह “भोजन के साथ किसी भी तरह की छेड़छाड़ को बर्दाश्त नहीं करेगा”, और इसे “ह्यूमन एरर”  की संज्ञा देते हुए उस आदमी को नौकरी से फिलहाल के लिए हटा दिया  गया है। हालांकि यह निश्चित रूप से काम के प्रति लापरवाह रवैय्या को दर्शाता है, लेकिन इसके साथ ही डिलीवरी बॉयज़ की कामकाजी परिस्थितियों पर एक नई बहस का आगाज़ करता है कि  किन परिस्थितियों में वो इस तरह का काम करने को मज़बूर होते हैं।

 

डिलिवरी बॉयज़ और उनका काम

ई-कॉमर्स और फ़ूड डिलीवरी स्टार्टअप में बढ़ोतरी के कारण, अब अधिक से अधिक लोग डिलीवरी बॉयज़ के रूप में रोजगार प्राप्त कर रहे हैं। बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फ़ूड डिलीवरी ऐप ज़ोमैटो कर्मचारियों के देश में लगभग 1,50,000 डिलीवरी वाले कर्मचारी हैं और स्विगी कर्मचारी 1,00,000 हैं। कम से कम साठ से अस्सी लाख भारतीय हर साल नौकरी के लिए तैयार होते हैं, नौकरी की संख्या ज़्यादा न होने के कारण, लोगों को कामचलाऊ नौकरी करनी पड़ती है।

इस साल जुलाई में, लाइवमिंट ने बताया कि फ़ूड डिलीवरी ऐप्स के साथ काम करने वाले डिलीवरी बॉयज़ के वेतन को 25,000 रुपये से 50,000 रुपये तक देने का दावा किया गया है, जो उनके द्वारा किए गए डिलीवरी और दूरी को कवर करने की संख्या के हिसाब से है। कई नियोक्ता एक निश्चित लक्ष्य लेते हैं, जिसका अर्थ है कि डिलीवरी बॉयज़ को डिलीवरी की एक निश्चित संख्या करने की आवश्यकता होती है, क्योंकि उन्हें प्रति डिलीवरी का भुगतान किया जाता है जो वास्तव में अच्छा मुआवज़ा हासिल करने के लक्ष्य से काम है। एक डिलीवरी बॉय ने बीबीसी को बताया, “इससे पहले हमें 60 रुपये प्रति डिलीवरी मिलती थी। फिर 60 से, यह 40 हो गया। फिर भी, मैंने जारी रखा क्योंकि मुझे अपने बच्चों को पढ़ाना है। अब कंपनी प्रति डिलीवरी 30 रुपये देने की योजना बना रही है। लेकिन मेरे खर्च ज़्यादा हैं – पेट्रोल महंगा है, मेरे बच्चे भी हैं। मुझे बताओ कि मुझे क्या करना चाहिए?”

कंपनियां एक निश्चित समय अवधि में वस्तुओं को डिलीवर करने के लिए आकर्षक ऑफर भी देती हैं। हालांकि यह उपभोक्ताओं के हिसाब से आकर्षक लगता है, लेकिन यहाँ ध्यान देने वाली बात यह है कि इस सौदे में, अधिकतर डिलीवरी बॉय ही देरी करने पर दंडित होता है। सितंबर में, एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर अपने अनुभव का वर्णन किया जहाँ उनका वाहन लगभग पिज्जा डिलीवरी लड़के की बाइक से टक्कर खा गया मगर गनीमत कि उस लड़के को कुछ नहीं हुआ। जब व्यक्ति ने लड़के से तेज़ गाड़ी चलाने का कारण पूछा, तो उसने उसे जाने के लिए अनुरोध किया क्योंकि उसे उस समय पर डिलीवरी देनी थी। वह लड़का अपने मालिक के वादे को पूरा करने के लिए अपने जीवन को जोखिम में डालने के लिए तैयार था।

यह बहुत ही लुभावना लगता है कि अब, घर पर बैठे बैठे आप पूरे महीने की किराने को सिर्फ एक क्लिक के साथ ऑर्डर कर सकते हैं। यह डिलीवरी बॉय ही हैं जो हमारे उत्पादों को हमारे दरवाजे पर ले आते हैं। इसका मतलब है कि उन्हें अपने कंधों पर भारी बैग के साथ ऊँची इमारतों पर चढ़ना पड़ता है|  पूर्व डिलीवरी बॉय में से एक, इनयूथ से बात करते हुए कहा कि उसे भारी बैग उठाने से हुई दिक्कत के कारण नौकरी छोड़नी पड़ी। वह यह भी कहता है कि आज तक, भारी बैग उठाने के कारण उसकी पीठ दर्द करती है। एक और डिलीवरी बॉय कहता है कि ग्राहक भी बहुत कम या कोई सहानुभूति नहीं दिखाते हैं, वे चाहते हैं कि उनके उत्पाद उनके दरवाजे पर पहुँचे।

 

भविष्य की संभावनाएं 

निश्चित रूप से, ग्राहक के घर पर उत्पादों को डिलीवर करने वाले स्टार्टअप में बढ़ोतरी के साथ, इस कठिन समय में रोजगार उत्पन्न किया जा रहा है। लेकिन इसके दूसरी पहलु को भी नहीं नाकारा जा सकता है, यानी नियोजित लोगों की कामकाजी परिस्थितियाँ समय-समय पर व्यवस्थित करने और यह सुनिश्चित करने की मांग की गई है कि असंगठित क्षेत्रों में या कॉन्ट्रैक्ट एम्प्लोयी में नियोजित लोगों को उनके अधिकारों से वंचित नहीं रखा जायेगा। उचित वेतन, स्पष्ट रोजगार शर्तें, निश्चित कार्य समय और चिकित्सा लाभ उनमें से कुछ हैं। हालिया घटना एक डिलीवरी व्यक्ति के रूप में काम करने वाले सिर्फ एक व्यक्ति पर केंद्रित है लेकिन बहस को इन स्टार्टअप में नियोजित लोगों की समग्र स्थिति में सुधार करने पर ध्यान देना चाहिए जो अक्सर नौकरी में शामिल होते हैं क्योंकि वे कहीं और रोजगार पाने में सक्षम नहीं होते हैं।

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...