ख़बरें

दिल्ली सरकार और कैरियर लॉन्चर सरकारी स्कूल के छात्रों को मुफ्त NEET और JEE कोचिंग देगी

तर्कसंगत

Image Credits: Jagran

January 31, 2019

SHARES

 

दिल्ली की आप सरकार अपने कई सारे प्रोजेक्ट्स के लिए चर्चा में रहती है, जैसे कि नागरिक सेवाओं को आपके घर तक पहुँचाना, मोहल्ला क्लिनिक, हैप्पीनेस थेरेपी, सरकारी स्कूल की कायाकल्प इत्यादि. दिल्ली की AAP सरकार ने इसी श्रृंखला में एक और घोषणा की है कि सरकारी स्कूलों में बच्चों को NEET और JEE की तैयारी के लिए मुफ्त में क्लास दी जाएगी. नि: शुल्क कोचिंग कक्षाएं प्रदान करने के लिए, कैरियर लॉन्चर, जो कि भारत की लीडिंग कोचिंग इंस्टिट्यूट में से एक है और सीएल एजुकेट लिमिटेड को इसका हिस्सा बनाया गया है.

 

क्रैश कोर्स

आप और करियर लॉन्चर के बीच हुए समझौते के अनुसार, NEET और JEE की तैयारी के लिए बच्चों को स्पेशल क्रैश कोर्स कराये जायेंगे. दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 12 वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को प्रशिक्षण मिलेगा. उन्हें कैरियर लॉन्चर साइट की लॉगिन क्रेडेंशियल भी दी जाएगी.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक इसके अतिरिक्त, कैरियर लॉन्चर ने शिक्षकों को ट्रेनिंग देना शुरू किया है ताकि वे छात्रों की तैयारी में मदद कर सकें. छात्र 21 जनवरी से शाम 7 बजे से 10 बजे के बीच क्लासेज करते हैं. बेहतर तैयारी के लिए, छात्रों को ऑनलाइन टेस्ट और क्यूएसचंस तक पहुंच प्राप्त होगी और यह सब मुफ्त में होगा. मुख्य रूप से चार विषयों- फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी और मैथ्स पर 130 घंटे की ट्रेनिंग दी जाएगी.

कैरियर लॉन्चर के कंटेंट हेड मोहन प्रसाद ने इस पहल को आगे बढ़ाते हुए कहा, “हमारी टीम दिल्ली सरकार के साथ साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए इस फायदेमंद कोर्स को शुरू करने पर गर्व महसूस कर रही है: जेईई और एनईईटी क्रैश कोर्स के साथ हम आईआईटी जेईई क्वालीफायर की संख्या को दुगना करने के लिए आश्वस्त हैं, जो पहले से ही 40-50 से बढ़कर दिल्ली सरकार के प्रयासों के साथ 300 से अधिक हो गई है, खासकर जब से उनके अपने शिक्षक और शिक्षा निदेशालय के अधिकारी इस प्रक्रिया में गंभीरता से शामिल हैं.” मोहन प्रसाद ने कहा.

शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, “2015 से, IIT-JEE में चयनित होने वाले छात्रों की संख्या आज 40-50 से बढ़कर 300 से अधिक चयन हो गई है. यह दिल्ली सरकार के स्कूलों के शिक्षकों और छात्रों की लगातार कड़ी मेहनत का नतीजा है. हम करियर लॉन्चर को धन्यवाद देते हैं और इस सफलता के निर्माण में उनका स्वागत करते हैं.”

 

सीएम ने स्कूल भवनों का किया उद्घाटन

दूसरी ओर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 200 सरकारी स्कूलों के लिए 11,000 कक्षाओं के निर्माण की आधारशिला रखी. 2015 और 2018 के बीच 8,000 कक्षाओं के निर्माण के बाद यह उनके निर्माण का दूसरा हिस्सा है.

केजरीवाल कहते हैं “इंफ्रास्ट्रक्चर बनाना कोई रॉकेट साइंस नहीं है ज़रूरी है केम्ब्रिज, ऑक्सफोर्ड और हार्वर्ड जैसे दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित संस्थानों में एक्सपोज़र के माध्यम से, दिल्ली सरकार के स्कूलों के शिक्षकों में आत्मविश्वास कैसे पैदा किया गया है.”

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...