ख़बरें

अरुणाचल प्रदेश: भारतीय वायुसेना की मदद करने के लिए, 11 गांव क्षतिग्रस्त हवाई पट्टी की मरम्मत करने आगे आये

तर्कसंगत

February 1, 2019

SHARES

अरुणाचल 24 की रिपोर्ट के अनुसार, विजयनगर, अरुणाचल प्रदेश के आसपास के 11 गाँवों के लोगों ने भारतीय वायु सेना के क्षतिग्रस्त हवाई पट्टी की मरम्मत करने के लिए खुद से श्रमदान देने का पहल किया है.

 

किसी मोटर योग्य सड़क से नहीं जुड़ा है

राज्य में चांगलांग जिले के एक दूरदराज के कोने में स्थित विजयनगर एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड (एएलजी) 2016 से बेकार पड़ा हुआ है. इसे किसी भी फिक्स्ड विंग एयरक्राफ्ट के उपयोग के लिए अयोग्य माना जाता था.

2018 में, वायु सेना के अधिकारियों ने अरुणाचल प्रदेश में ऐसे सात एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड्स में मरम्मत कार्य शुरू करने का निर्णय लिया. हालांकि, विजयनगर एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड्स के लिए, मुख्य बात यह थी कि यह किसी भी पक्की सड़क से जुड़ा नहीं है. इसलिए, सभी सामग्रियों और श्रम संसाधनों को काम के लिए एयरलिफ्ट करना पड़ा, जिसमें काफी खर्च हुआ.

 

 

भारतीय वायुसेना ने ग्रामीणों द्वारा ‘श्रमदान’ की सराहना की

इस मुश्किल कार्य के लिए 11 गाँव के लोगों खुद से भाग लिया और वे वायु सेना की मदद के लिए आगे आये. वायु सेना के अधिकारियों की मदद करने के लिए सभी अत्यधिक उत्साही हैं और मरम्मत का काम युद्धस्तर पर आगे बढ़ रहा है.

 

 

मरम्मत के काम के बारे में बताते हुए आईएएफ के प्रवक्ता ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि सबसे पहले हवाई पट्टी पर उग आयी जंगली घास और झाडी को साफ़ कर रहे हैं. साथ ही एक  विशेष रूप से प्रशिक्षित टीम ने मरम्मत का काम करना शुरू कर दिया है और उसके लिए ज़रूरी समंनो को एयरलिफ्ट कर अलग अलग स्टेजेस में लाया जा रहा है, कर्नल सी कोनवर ने अरुणाचल टाइम्स को बताया.

भारतीय वायुसेना के अधिकारियों ने अरुणाचल प्रदेश के नागरिक और भारतीय वायुसेना के बीच के संबंध की सराहना करते हुए ग्रामीणों द्वारा किये गए मदद के लिए उनका धन्यवाद किया.

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने हाल ही में पीआरओ डिफेंस मेघालय द्वारा काम के बारे में एक ट्वीट शेयर  किया, जिसमें आईएएफ अधिकारियों और रक्षा मंत्रालय के काम के लिए उनकी प्रशंसा का उल्लेख किया गया है.

 

तर्कसंगत भारतीय वायु सेना की मदद करने के लिए ग्रामीणों द्वारा दिखाई गई जिम्मेदारी और उत्साही भावना की सराहना करता है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...