मेरी कहानी

मेरी कहानी: शिक्षक बनना एक सम्मान की बात है

तर्कसंगत

March 6, 2019

SHARES

शिक्षक बनना एक सम्मान की बात है.

2016 में, मुझे मोरक्को के पहाड़ों में रहने वाले छात्रों को पढ़ाने के लिए बुलाया गया. यह एक सपना सच होने जैसा था.

यहाँ, कोई किराने की दुकान, कोई मोबाइल और कोई वाईफाई नहीं हैं. सड़कें नहीं हैं. वीकेंड में कोई परिवहन नहीं है इसलिए मैं 12 किमी से अधिक पहाड़ के नीचे चल कर पढ़ाने जाता हूँ.

लेकिन मैं इसे एक रोमांच के रूप में देखता हूँ.

मैं अपने छात्रों के बारे में भावुक हूँ और मैं एक मृदुभाषी शिक्षक भी हूँ.

मेरे करीबी छात्रों में से एक 10 साल का छात्र है, उसके मनोवैज्ञानिक और पारिवारिक परेशानियां हैं जो उसे अनोखा बनाते हैं.

फिर भी वह सभी पहलुओं में एक ऐसा प्रतिभाशाली छात्र है. मेरे समझाने और पढ़ाने से पहले वह अगले विषय की जानकारी रखता है, यदि वह ब्रेक में अपने दोस्तों के साथ नहीं खेल रहा है, तो वह मेरे साथ मजेदार वीडियो देख रहा होता है. वह कहता है कि मैं उसका सबसे अच्छा दोस्त हूँ.

और जब मैं उन छात्रों की मुस्कुराहट देखता हूँ जिन्हें में पढ़ा रहा हूँ … मेरे लिए वह एक बेहतरीन अनुभव होता है.

 

कहानी: Abdellah Idbella

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...