खेल

साउथ एशियाई फुटबॉल फेडरेशन विमेंस चैंपियनशिप में विगत चैंपियन भारत ने मालदीव्स को 6 -0 से हराया

तर्कसंगत

Image Credits: Indian Express

March 14, 2019

SHARES

बुधवार से नेपाल के शहीद रंगशाला स्टेडियम में शुरू हुए SAFF विमेंस चैम्पयनशिप में भारत ने अपने पहला मुक़ाबला मालदीव्स को हराकर जीता. भारतीय टीम के लिए डांगमेई ग्रेस, संध्या रंगनाथन, संजू, इंदुमति कथायर्सन और रतनबाला देवी ने गोल किये. भारत ने ये श्रृंखला 4 बार जीत रखी है.

 

मैच शुरू होते के साथ ही भारतीय टीम मालदीव्स पर हावी रही और डिफेंडर्स द्वारा लगातार दबाव रखने की वजह से डांगमेई ग्रेस ने मैच के 8वें मिनट में ही पहला गोल किया. ग्रेस ने मैच के दूसरे गोल में भी भारत के लिए अहम भूमिका निभाई, इस बार उन्होनें मैच में अपनी साथी खिलाड़ी संध्या को शानदार पास दे कर 13वें मिनट में भारत को बढ़त दिलाई.

 

भारत का तीसरा गोल इंदुमती की तरफ से मैच के 22वें मिनट में आया जब इंदुमती ने अपने प्रतिद्वंदी खिलाड़ी को पीछे छोड़ते हुए तेज़ी से गोल की तरफ बढ़ीं और एक ज़ोरदार किक लगा कर भारत को जीत के और भी नज़दीक कर दिया.

 

 

मैच में भारतीय खिलाड़ी किसी भी तरह से मालदीव्स के खिलाड़ियों को कोई भी मौका देते नहीं दिख रहे थे, इक्का दुक्का मौकों के अलावे गेंद विरोधी खिलाड़ी के कब्ज़े में ज़्यादा रह नहीं पा रही थी. इसी बेहतरीन खेल के क्रम को आगे बढ़ाते हुए तीसरे गोल के मात्र चार मिनट बाद, यह संजू ने स्कोरशीट पर अपना नाम अंकित कर दिया. डालिमा छिब्बर द्वारा दाहिने से दिए गए एक लंबी क्रॉस-फील्ड पास को भारतीय लेफ्ट विंगर ने रोक कर गेंद को अपने कब्ज़े में ले कर तेज़ी से आगे बढ़ी अपने वृद्धि डिफेंडर को चकमा दे कर, गेंद को नेट के एक कोने में पहुँचा दिया.

 

भारतीय टीम ने इस अंतर को बढ़ाने के लिए अपना बेहतरीन खेल जारी रखा, मालदीव के कीपर पर लगातार प्रहार करते रहे,  फर्स्ट हाफ ख़त्म होने से मत्र चार मिनट पहले रतनबाला देवी ने मैच के पांचवें गोल के रूप में भारत की जीत लगभग पक्की कर दी, ये गोल उन्हों पेनल्टी क्षेत्र के बाहर मिले सीधे फ्री-किक से लगाया.

 

खेल के दूसरे हाल्फ में कोच मेमोल रॉकी की टीम ने खेलना शुरू किया और इस बार इंदुमती के जगह पर मनीषा को फील्ड पर उतारा गया भारतीय महिलाओं ने खेल पर अपना नियंत्रण बनाए रखना जारी रखा. मालदीव की टीम फील्ड के आधे हिस्से में सिमटी नज़र आ रही थी. भारत ने इसके बाद के प्रयास लम्बी किक द्वारा ही हुए, क्यूंकि शायद मालदीव की टीम और ज़्यादा गोल से हारने का जोखिम नहीं उठाना चाहती थी. ग्रेस, मनीषा, डालिमा और संगीता सभी ने अपनी टीम की बढ़त को बरक़रार बनाये.

 

मैच के अंतिम क्षणों में खेल की गति धीमी हो गई और संजू ने अंततः अपने खाते का दूसरा और भारत का छठा गोल कर दिया. अपनी लाइन में प्रतिद्वंद्वी कस्टोडियन को आता देखकर, उन्होनें दूर से ही एक बेहतरीन शॉट मारा जो कीपर के ऊपर से होते हुए सीधे गोल में चला गया.

इस परिणाम के साथ, भारतीय पक्ष  SAFF चैंपियनशिप में लगातार 20 मैचों में अजेय है.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...