खेल

आईपीएल मैच 4: दुनिया के दो विस्फोटक बल्लेबाज़, गेल और स्मिथ पर रहेंगी सब की नज़रें

तर्कसंगत

March 25, 2019

SHARES

राजस्थान रायल्स टीम आज किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 12वीं इंडियन प्रीमियर लीग के शुरूआती मुकाबले में आमने सामने होंगी तो उसके ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ की निगाहें क्रिकेट में शानदार वापसी पर लगी होगी. वहीं रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई वाली पंजाब की टीम अपने सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल और लोकेश राहुल पर निर्भर होगी कि ये उसे आक्रामक शुरूआत दिलाये.

 

राजस्थान रॉयल्स

टूर्नामेंट के प्रथम सीजन में विजेता होने के बाद राजस्थान रॉयल्स की आईपीएल में यात्रा कई उतार चढ़ाव से भरी रही है. लेकिन दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न की कप्तानी में पहले सीजन में मिली हुई सफलता का परिवर्तन करने में रॉयल्स नाकामियाब रहे है. पिछले साल २ वर्ष के प्रतिबन्ध के बाद वापिस आने  के बावजूद टीम ने प्ले ऑफ में जगह बनाई थी . टीम अपनी नयी पिंक किट में फिर से चैंपियंस ट्रॉफी उठाने की इच्छा से मैदान में उतरेगी.

राजस्थान रॉयल्स के लिए सबसे अच्छी खबर पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ की वापसी है जिन्होंने पिछले साल का आईपीएल प्रतिबन्ध के कारण मिस किया था . बैटिंग में टीम स्मिथ के अलावा कप्तान अजिंक्य रहाणे , ऑलराउंडर बेन स्टोक्स , जोस बटलर , संजू सेमसन और नए शामिल एश्टन टर्नर पर निर्भर रहेगी . मनन वोहरा और राहुल त्रिपाठी जैसे युवा बैट्समैन अपने दिन मैच का रुख पलटने में सक्षम है.

 

फोटो क्रेडिट : ट्विटर/ राजस्थान रॉयल्स

 

बोलिंग डिपार्टमेंट की जिम्मेदारी जेफ्री आर्चर और जयदेव उनाडकट के कंधो पर होगी जिसे टीम ने रिलीज़ करने के बाद फिरसे ऑक्शन में बहुत भारी कीमत पर ख़रीदा है. उनका साथ देने धवल कुलकर्णी और वरुण आरोन  जैसे अनुभवी भारतीय और ओशेन थॉमस के रूप फ़ास्ट बॉलर है. स्पिन डिपार्टमेंट ईश सोढ़ी और कृष्णप्पा गौतम पर निर्भर रहेगा.




किंग्स इलेवन पंजाब

किंग्स इलेवन पंजाब की सबसे बड़ी समस्या निरंतरता की कमी रही है . सबसे पहले सीजन में सेमीफाइनल में पहोचने के बाद किंग्स इलेवन सिर्फ एक बार प्ले ऑफ तक पहुंच पाई है . हर सीजन टीम ने कई मैच में शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन उसके साथ कई निराशाजनक प्रदर्शन भी है. टूर्नामेंट में सफलता पाने के लिए सालों में टीम ओनर प्रिटी ज़िंटा और टीम मैनेजमेंट ने कई बदलाव किये है. इस बार भी ऑक्शन के दौरान टीम काफी एक्टिव रही और कई नए चेहरों को टीम में शामिल किया गया है .

किंग्स इलेवन पंजाब का सबसे मजबूत फैक्टर उनकी बैटिंग है. राहुल और गेल की ओपनिंग पैर किसी भी टीम के बोलिंग को ध्वस्त करने में सक्षम है. मध्यम  क्रम में नायर , मयंक अग्रवाल , मनदीप सिंघ जैसे युवा भारतीय बैट्समैन और डेविड मिलर , मोसिस हेनरिक्वेस और निकोलस पूरन जैसे बेहतरीन फिनिशर्स शामिल है . जिन्होंने कई मुश्किल मैच में पंजाब को जीत दिलाई है.

कप्तान आश्विन टीम के बोलिंग डिपार्टमेंट की कमान संभालेंगे, उनका साथ युवा अफगानी स्पिनर मुजीब जादरान और मिस्ट्री लेग स्पिनर वरुण चक्रवर्ती देंगे जिनको पंजाब ने 8.4 करोड़ की भारी किम्मत में ख़रीदा है. पंजाब के पास फ़ास्ट बोलर में युवा और अनुभवी का अच्छा मिश्रण है. मोहम्मद शमी, टाय और विलजोएन टी-20 फॉर्मेट में काफी अनुभवी है जबकि अंकित राजपूत , सैम करन और अंडर – १९ प्रोडक्ट अर्शदीप सिंघ बोलिंग डिपार्टमेंट में जरुरी युवा जोश प्रदान करते है.

 

फोटो क्रेडिट : ट्विटर/ किंग्स XI पंजाब



आमने सामने

मैच – 17, राजस्थान रॉयल्स – 10, किंग्स इलेवन पंजाब – 7


पिछले सीजन में दोनों टीमों ने अपने-अपने घरेलू मैच जीते थे. केएल राहुल ने KXIP के लिए दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया था, उन्होंने इंदौर में 6 विकेट की जीत में 54 गेंदों में 84 रनों की नाबाद पारी खेली और इसके बाद 95 रन बनाए, जो जयपुर में KXIP को मैच जीताने के लिए पर्याप्त नहीं थे. राजस्थान रॉयल्स के लिए, जोस बटलर ने दोनों मैचों में अच्छी बैटिंग की थी, उन्होंने इंदौर में 51 रन बनाए और  जयपुर में 82 रन बनाए, जिससे राजस्थान रॉयल्स को 15 रन से जीत मिली.

 

लेखक: ओम पाठक 

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...