ख़बरें

[वीडियो ] टीवी शोज को उनके एपिसोड में पीएम मोदी और बीजेपी का प्रचार करते हुए देख EC ने Zee TV, & TV को नोटिस भेजा

तर्कसंगत

Image Credits: Scroll.in

April 11, 2019

SHARES

लोकसभा 2019 चुनावों के पहले चरण के बिल्कुल कुछ दिन पूर्व, चुनाव आयोग ने कुछ भारतीय टीवी चैनलों को केंद्रीय सरकार की कुछ स्कीमों को प्रसारित करने के कारण, नोटिस भेजा है. कड़ी कार्यवाही करते हुए, चुनाव आयोग ने zeetv और &tv को कारण बताओ नोटिस भेजा है कि उन पर कार्यवाही क्यों ना की जाए? &tv का “भाभीजी घर पर हैं” और zeetv का “तुझसे है राब्ता” वो संबंधित डेली सीरियल्स है जिन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और भाजपा सरकार के कुछ कार्यक्रमों एवं स्कीमों को ब्रॉडकास्ट कर प्रसारित किया था. चुनाव ने दोनों चैनलों, जो zee group के मातहत आते है, को 24 घंटे के अंदर जवाब देने के लिए कहा है.

महाराष्ट्र के अतिरिक्त मुख्य चुनाव अधिकारी श्री दिलीप शिंदे ने बताया कि उन्होंने दोनों संबंधित चैनलों के ख़िलाफ़ आचार संहिता उल्लंघन करने की शिकायतें दर्ज़ की है. उन्होंने आगे बताया कि शिकायत मिलने के तुरंत बाद उन्होंने संबंधित दोनों टीवी कार्यक्रमों, जिन्होंने भाजपा सरकार की स्कीम को प्रसारित किया, के निर्माताओं को पत्र लिखकर पूछा है और उन्हें 24 घंटे के भीतर जवाब देने को कहा है. “आगे की कार्यवाही उनके जवाब मिलने के बाद की जावेगी.” उन्होंने जोड़ते हुए कहा.

महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव श्री सचिन सावंत ने दोनों संबंधित कार्यक्रमों की निन्दा की और कहा कि वे कार्यक्रम के निर्माताओं, कलाकारों और भाजपा के ख़िलाफ़ केस दर्ज करवाएंगे. “ये एक गंभीर घटना थी और चुनाव आयोग से ऐसी प्रतिक्रिया आना संभावित था. चैनलों ने खुले आम आचार संहिता का उल्लंघन किया है और मैंने मांग की है कि दोनों चैनलों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया जाए.” उन्होंने बताया. कांग्रेस zee Marathi पर संचालित होने वाले एक अन्य कार्यक्रम “तुला पहाते रेे” जिसने मेक इन इंडिया स्कीम को प्रसारित किया, के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज़ करने वाली हैं.

संबंधित कार्यक्रमों के प्रसारित अंश

4 अप्रैल 2019 को प्रसारित हुए कार्यक्रम भाभीजी घर पर हैं, के कुछ अंशों को एक ट्विटर यूजर ने पोस्ट किया है. इन अंशों में ये साफ़ देखा जा सकता है कि कार्यक्रम में एक चरित्र स्वच्छ भारत मिशन की तारीफ़ करते हुए कहता है “एक वो आदमी है जो दिन रात देश की अखंडता और स्वच्छता की बात करता है.” कार्यक्रम का वह चरित्र आगे कहता है कि क्यों ये स्कीम कामयाब ना हो सकी और लोगों में कम जागरूकता  को इसका कारण बताया. वह चरित्र बताता है कि कैसे कुछ कठिन मेहनत करने वाले नेताओं के कारण ये स्कीम आज भी जिंदा है.

ट्विटर यूजर ने कार्यक्रम के एक और अंश को पोस्ट किया, जिसमें कार्यक्रम का मुख्य किरदार, भाभीजी उज्ज्वला योजना के लिए, कसीदे पढ़ रहा है. इस अंश में भाभी जी अपने पति को भाजपा सरकार की उज्ज्वला योजना के बारे में विस्तार से बताती हैं कि कैसे गांव में बच्चों और महिलाओं को प्रदूषण से बचाने में ये स्कीम कारगर है.

एक अन्य ट्विटर यूजर ने कार्यक्रम ‘तुझसे है राब्ता’ के कुछ अंशों को पोस्ट किया जिसमें एक किरदार, अपनी दादी से बात करते हुए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना को समझाती है.

मुंबई मिरर को बताते हुए Zee group के प्रवक्ता ने बताया है कि संबंधित कार्यक्रमों के अंश और सामग्री जनता के हित को ध्यान में रखकर बनाए जाते हैं.

लेख: आयरा अविशि

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...