ख़बरें

दिल्ली सरकार ने आँगनवाड़ी कर्मचारियों को दिए स्मार्ट फ़ोन, अब आँगनवाड़ी में मिलेगी प्लेस्कूल वाली सुविधाएं

तर्कसंगत

Image Credits: Arvind Kejriwal

August 9, 2019

SHARES

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 7 अगस्त को इंदिरा गांधी स्टेडियम में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के बीच 10000 हाई-एंड स्मार्टफोन वितरित किए. स्मार्टफ़ोन में पहले से इंस्टॉल किए गए एप्लिकेशन हैं जो आधार-आधारित श्रमिकों के पंजीकरण को सक्षम करेंगे, उनकी उपस्थिति दर्ज करेंगे, केंद्र के खुलने और बंद होने के समय को पंजीकृत करेंगे, और दैनिक तस्वीरें और काम का विवरण साझा करेंगे.सरकार को अब सभी सूचनाओं तक सीधी पहुंच होगी क्योंकि फोन सरकारी डेटाबेस से जुड़े होंगे. इससे सरकार को मासिक रजिस्टर बनाए रखने में मदद मिलेगी.इस पहल से सभी केंद्रों पर स्थिति के एक वास्तविक समय तंत्र की निगरानी करने और श्रमिकों के लिए बेहतर कार्य और आजीविका सुनिश्चित करने की उम्मीद है.

 

इंटीग्रेटेड चाइल्ड डेवलोपमेन्ट सर्विस

निजी प्लेस्कूलों के बराबर आंगनवाड़ियों को लाने के लिए, दिल्ली सरकार ने आंगनवाड़ियों के लिए “अर्ली चाइल्डहुड केयर करिकुलम ” भी शुरू किया, जहां गरीब बच्चों को सभी आधुनिक सुविधाओं और बुनियादी सुविधाएं दी जाती हैं. “दुनिया भर में, यह स्वीकार किया गया है कि 80 प्रतिशत बच्चों का मस्तिष्क विकास 6 वर्ष की आयु तक होता है, लेकिन भारत ने बचपन की देखभाल की उपेक्षा जारी रखी है.” सिसोदिया ने एएनआई को बताया.  

राज्य सरकार के अनुसार, दिल्ली में केंद्र सरकार की एकीकृत बाल विकास सेवा (ICDS) योजना के तहत 10,752 आंगनवाड़ी केंद्र कार्यरत हैं. 1,13,000 से अधिक बच्चे और लगभग 4,37,000 गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाएं योजना के लाभार्थी हैं.

“एक धारणा है कि आंगनवाड़ि बच्चों को केवल भोजन प्रदान करने के लिए केंद्र हैं. बच्चे आएंगे, उन्हें भोजन दिया जायेगा और वापस भेज दिया जायेगा. अब एक अर्ली चाइल्डहुड केयर करिकुलम की शुरुआत की जा रही है ताकि आँगनवाड़ी के बच्चों को उस तरह के केयर और शिक्षा दी जाए जो महंगे प्लेस्कूलों में दी जाती है. यहां तक ​​कि गरीबों के पास उन सुविधाओं तक पहुंच होगी जो अमीर लोगों के पास होती हैं. आंगनवाड़ियों को अब प्लेस्कूलों में विकसित किया जाएगा” केजरीवाल ने एएनआई को बताया.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...