ख़बरें

अमेजन भारत में जून 2020 तक सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करेगी

तर्कसंगत

September 6, 2019

SHARES

अमेरिका की ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने बुधवार को कहा कि भारत में पैकेजिंग के लिए जून 2020 तक सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद कर दिया जाएगा. इसके बदले पेपर कुशन काम में लिए जाएंगे. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने यह जानकारी दी. पर्यावरण प्रदूषण के खिलाफ मुहिम में प्रमुख कंपनियां आगे आ रही हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों ऐलान किया था कि प्लास्टिक बैग, कप और स्ट्रॉ पर रोक लगाई जाएगी.

अमेज़न इंडिया के उपाध्यक्ष (ग्राहक पूर्ति) अखिल सक्सेना ने कहा, ‘अमेजन इंडिया टिकाऊ आपूर्ति श्रृंखला के लिए प्रतिबद्ध है, जिसमें प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से पैकेजिंग सामग्री के सबसे अच्छे इस्तेमाल, कचरा में कमी लाने और पर्यावरण के अनुकूल पैकेजिंग का सिस्टम विकसित करने का लक्ष्य है.’

पैकेजिंग में बहुत ज्यादा प्लास्टिक और थर्माकॉल का इस्तेमाल करने की वजह से अमेजन की निंदा होती रही है. कंपनी का अब कहना है कि पर्यावरण के लिए सुरक्षित पैकेजिंग सामग्री जो पूरी तरह रिसाइकल करने योग्य होगी, उसे ही काम में लिया जाएगा.

पिछले हफ्ते फ्लिपकार्ट ने कहा था कि उसने सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल 25% कम कर दिया है। मार्च 2021 तक पूरी तरह रिसाइकल प्लास्टिक के इस्तेमाल की योजना है.

भारतीय रेलवे ने पहले से ही 2 अक्टूबर, 2019 से स्टेशनों पर एकल-उपयोग वाली प्लास्टिक सामग्री पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है. रेलवे बोर्ड ने अपने अधिकारियों से 360 प्रमुख स्टेशनों पर 1,853 प्लास्टिक पानी की बोतल क्रशिंग मशीनों की स्थापना में तेजी लाने के लिए कहा है। बोर्ड ने जोनल रेलवे और प्रोडक्शन यूनिट के रेलवे महाप्रबंधकों को रेलवे के विक्रेताओं से प्लास्टिक कैरी बैग के इस्तेमाल से बचने के लिए कहने का निर्देश दिया है.

29 अगस्त को, एयर इंडिया ने 2 अक्टूबर से अपनी सभी उड़ान पर कप, बैग, और तिनके जैसे प्लास्टिक उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की. ईको-फ्रेंडली बर्च वुड कटलरी विशेष भोजन के लिए प्लास्टिक कटलरी की जगह लेगी, जबकि हल्के वजन वाले स्टील कटलरी की जगह लेगी. चालक दल के भोजन की कटलरी, जबकि प्लास्टिक के टंबलर और टेची को उनके पेपर संस्करणों के साथ बदल दिया जाएगा.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...