ख़बरें

जानिये कैसे ये दो ऐप जो आपको ट्रैफिक जुर्मानों से बचा सकते है

तर्कसंगत

Image Credits: Auto Evolution/

September 11, 2019

SHARES

नए ट्रैफिक नियम पर पूरे देश में इस समय बहस आम है. अगर अब तक आप ट्रैफिक पुलिस की चपेट में नहीं आए हैं तो यह अच्छी बात है. आगे भी ऐसा ना हो इसके लिए हमारे पास कुछ स्मार्ट उपाय हैं. अगर आप सड़क पर वाहन चला रहे हैं और ड्राइविंग लाइसेंस या वाहन का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट नहीं है तो आपका मोटा चालान कट सकता है. अगर आपके पास इन दस्तावेजों की इलेक्ट्रॉनिक कॉपी मौजूद है तो आपका स्मार्टफोन चालान से बचा सकता है.

 

ये दो ऐप आपका चालान कटने से बचा सकते हैं

ड्राइविंग लाइसेंस और व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC) को DigiLocker और mParivahan जैसे मोबाइल ऐप में भी रखा जा सकता है. नए मोटर व्हीकल कानून के तहत चालान के रूप में भारी रकम चुकाने से बचने के लिए आप अपने दस्तावेजों की इलेक्ट्रॉनिक कॉपी को DigiLocker और mParivahan एप में स्टोर कर सकते हैं. जरूरत के वक्त ट्रैफिक पुलिस को यह दिखाने पर आपका चालान नहीं होगा.

 

 

केंद्र सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी कर कहा है कि डिजीलॉकर में रखे गए दस्तावेज मान्य हैं. यह केंद्र सरकार द्वारा दी जा रही सेवा है जिसमें नागरिकों को अपने दस्तावेज इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में रखने का विकल्प दिया गया है. अगर आपने डिजीलॉकर में कोई दस्तावेज रखा है और आप ट्रैफिक पुलिस के मांगने पर इसे दिखाते हैं तो यह वास्तविक दस्तावेज की तरह ही मान्य होगा.

 

Digilocker में अकाउंट कैसे बनाएं?

सबसे पहले आप डिजीलॉकर एप को गूगल प्ले स्टोर या iOS स्टोर से डाउनलोड करें. डिजीलॉकर एप को इनस्टॉल करने के बाद अपनी डिटेल्स भरें. इसके बाद OTP का यूज कर वेरिफिकेशन प्रोसेस पूरा कर लें. अगर आपका पहले से ही यहां अकाउंट है, तो लॉग-इन करें. वेरिफिकेशन करने पर आप अपने लाइसेंस या व्हीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट की पिक्चर एप के इंटरफेस में अपलोड कर सकते हैं.

m Parivahan का उपयोग कैसे करें ?

mParivahan ऐप  ऑल-इंडिया RTO व्हीकल रजिस्ट्रेशन नंबर सर्च की सरकारी ऐप  है. अगर आपको mParivahan में अपने कागजात रखने हैं तो गूगल प्ले स्टोर या iOS एप स्टोर से इसे डाउनलोड करें. इस ऐप  की मदद से किसी भी वाहन के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट को या किसी व्यक्ति के ड्राइविंग लाइसेंस को खोजा जा सकता है. आपको सबसे पहले mParivahan ऐप पर रजिस्टर करना होगा. रजिस्टर होने के बाद यूजर सेक्शन में जाकर साइन-इन करें. अपना मोबाइल नंबर डालें और लॉग-इन पर क्लिक करें. आपके पास एक OTP आएगा. अगर आपने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है, तो अपने मोबाइल नंबर के रजिस्टर करें. वेरिफिकेशन के लिए आपके पास OTP आएगा. mParivahan एप में MY RC सेक्शन पर जाएं. यहां रजिस्ट्रेशन नंबर डालें. इसके बाद सर्च बटन पर क्लिक करें. आपसे आपके वाहन का इंजन नंबर और चालान के आखिर के चार अंक पूछे जाएंगे. सभी डिटेल्स भरने के बाद “Verify and Get Details” पर क्लिक करें. आपको आपकी डिटेल्स दिख जाएंगी. ड्राइविंग लाइसेंस सेव करने के लिए My DL सेक्शन में जाकर अपने DL का नंबर और अपना जन्म तिथि डालें. यह एप आपके ड्राइविंग लाइसेंस की डिटेल्स निकालकर उसकी डिजिटल कॉपी सेव कर लेगा.

 

डिजिलॉकर या एम-परिवहन एप के माध्यम से वाहन के सभी दस्तावेज हमेशा के लिए सुरक्षित रहेंगे.अधिकांश देखा जाता है कि आरसी, प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र और बीमा के कागज वाहन में रखने से खराब हो जाते हैं.कभी-कभी दस्तावेज फट जाते हैं तो गीले होने से खराब हो जाते हैं.दस्तावेज चोरी होने का खतरा भी रहता है.डिजीलॉकर या एम-परिवहन एप के माध्यम से ये सभी फाइलें सुरक्षित रहेंगी.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...