ख़बरें

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना: जानिए किसानों के लिए क्या है नया और क्यों कुछ किसानों को नहीं मिलेगा इसका फायदा ?

तर्कसंगत

September 13, 2019

SHARES

पीएम मोदी ने गुरुवार को झारखंड से ‘प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना’ लॉन्च की है. इस योजना के तहत अप्लाई करने वाले किसानों को प्रतिमाह 3000 रुपए की पेंशन का लाभ मिलेगा. इस योजना के तहत 18 से 40 वर्ष के उम्र के किसानों का रजिस्ट्रेशन हो सकेगा. किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी. इसके तहत 9 अगस्त से रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ था. इसके पहले मोदी सरकार ने पीएम किसान योजना की शुरूआत की थी. केंद्र सरकार ने किसान मानधन योजना के अगले तीन साल के लिए 10,774 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। योजना का लाभ सभी छोटे और सीमांत किसान को मिलेगा।

 

कैसे उठायें योजना का लाभ

जिनके पास 2 हेक्टेयर तक ही खेती की जमीन है. योजना के तहत उन्हें कम से कम 20 साल और अधिकतम 42 साल तक 55 रुपए से 200 रुपए तक मासिक अंशदान करना होगा. पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए किसान को कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड और खसरा-खतौनी की नकल ले जानी होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए 2 फोटो और बैंक की पासबुक की भी जरूरत होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए किसान को अलग से कोई भी फीस नहीं देनी होगी. रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान का किसान पेंशन यूनिक नंबर और पेंशन कार्ड बनाया जाएगा.

इस पेंशन कोष का प्रबंधन भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) कर रहा है.

 

किन किन किसानों का नहीं मिलेगा इसका फायदा

नेशनल पेंशन स्कीम, कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) स्कीम, कर्मचारी भविष्य निधि स्कीम (EPFO) जैसी किसी अन्य सामाजिक सुरक्षा स्कीम के दायरे में शामिल लघु और सीमांत किसान. वे किसान जिन्होंने श्रम एवं रोजगार मंत्रालय दवारा संचालित प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना के लिए विकल्प चुना है. वे किसान जिन्होंने श्रम और रोजगार मंत्रालय दवारा संचालित प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मान-धन योजना के लिए विकल्प चुना है. अच्छी आर्थिक स्थिति वाले इन कैटगरी के लोगों को इसका लाभ नहीं मिलेगा. जैसे इंस्टीट्यूशनल लैंड होल्डर.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...