ख़बरें

पूर्व विधायक: ऐसा नहीं है कि केवल मुस्लिम आतंकवादी संगठन बना सकते हैं, हम भी ऐसा क्यों नहीं कर सकते?

तर्कसंगत

Image Credits: News18/Patrika

October 24, 2019

SHARES

“ऐसा नहीं है कि केवल वे (मुस्लिम) एक आतंकवादी संगठन बना सकते हैं। हम भी ऐसा क्यों नहीं कर सकते? ”यह भोपाल के पूर्व बीजेपी विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह द्वारा की गई बयानबाजी थी, जिसे हबीबगंज पुलिस द्वारा भारतीय दंड संहिता (IPC) की सार्वजनिक दुर्व्यवहार के लिए धारा 153A (धर्म के आधार पर दो समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 505 (बयानों) के तहत दर्ज किया गया है।

“हमारे पास एक वीडियो हैं जिसमें पूर्व विधायक सिंह को एक विवादित बयान देते हुए सुना जा सकता है। हम इसकी पूरी जांच कर रहे हैं। ” हबीबगंज के पुलिस स्टेशन निरीक्षक पी. सक्सेना ने कहा।

 

कथित तौर पर “लव जिहाद”

सिंह की बेटी भारती सिंह के कुछ दिनों के लिए फरार हो जाने के बाद उनके द्वारा ये टिप्पणी आई हालाँकि 22 अक्टूबर, मंगलवार को उनकी बेटी भोपाल वापस आ गई।

पुलिस ने पुष्टि की कि उनकी बेटी का 32 साल के एक शख्स फहीम खान से दोस्ती थी, जो एक अलग धर्म से ताल्लुक रखते हैं। भारती को बाद में जांच के लिए एक सरकारी केंद्र में ले जाया गया क्योंकि सिंह ने घोषणा की कि उनकी बेटी मानसिक रूप से अस्वस्थ है।

हालांकि, भारती ने दावा किया कि उसे उसकी मर्जी के खिलाफ घर में रखा गया था। उसने एक वीडियो भी बनाया जिसमें उसने दावा किया कि उसका परिवार उसे बंदी बना रहा है क्योंकि वे इस सोच से आशंकित हैं कि वह एक गैर-हिंदू से शादी कर सकती है।

भारती ने इसके पहले मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था, जिसमें उन्होनें दावा किया था कि उन्हें किसी विधायक के बेटे से शादी करने के लिए उनके परिवार द्वारा “इंजेक्शन” दिए जा रहे थे।

एक स्थानीय समाचार चैनल ने भी एक वीडियो क्लिप चलाया था जिसमें भारती ने कथित पीड़ा के बारे में बात करते हुए दिखाया था।

“मेरा परिवार चाहता है कि मैं अपनी इच्छा के विरुद्ध विधायक के बेटे से शादी कर लूं।” मुझे इंजेक्शन दिया जा रहा है,” उन्होनें कहा। उन्होनें आगे कहा कि वह “एक ईसाई, मुस्लिम के साथ नहीं” थी और “अपनी मर्जी से घर छोड़ने के बाद” वह “सुरक्षित और खुश” थी।

“मैं मानसिक रूप से स्वस्थ हूं। मेरे परिवार ने मेरे स्वास्थ्य के बारे में बहुत सारे झूठे दस्तावेज अपनी पहुँच का इस्तेमाल कर जुटाए हैं। मुझे जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। मैं घर वापस नहीं जाना चाहती, ”उन्होनें उस वीडियो क्लिप में कहा है।

सिंह ने मंगलवार को पीटीआई से बात करते हुए कहा, “दुनिया के सभी आतंकवादी संगठन इस्लामी हैं। अगर वे हम पर हमला करते हैं, तो हम उन्हें नहीं छोड़ेंगे।

उन्होंने हिंदुओं से भारत में “लव जिहाद” के बढ़ते मामलों के खिलाफ एकजुट होने का आग्रह किया। “दुनिया में लव जिहाद चल रहा है। अगर वे (मुस्लिम) लव जिहाद के जरिए हिंदू लड़कियों को अपनी आस्था में परिवर्तित कर रहे हैं तो हमें एकजुट होना होगा। हमें समाज के लिए लड़ना होगा।”

इस बीच, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें भारती और फहीम खान उत्तर महाराष्ट्र के जलगाँव जिले में निम्बोरा पुलिस स्टेशन के तहत इटावा गाँव में सोमवार रात मिले।

उन्होंने कहा, ‘हमने उन्हें (भारती सिंह) मंगलवार को अदालत में पेश किया। उन्होनें अदालत को बताया कि वह अपने पिता के स्थान पर लौटना चाहती थी। काउंसलिंग के बाद, वह अपने माता-पिता के यहाँ वापस आ गई, ”उन्होंने कहा कि खान को भोपाल में उनके निवास पर भी भेज दिया गया।

सिंह, जो भोपाल सेंट्रल सीट से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के लिए 2018 विधानसभा चुनाव हार गए थे, ने अपनी बेटी के लापता होने के लिए आरिफ मसूद को दोषी ठहराया था।

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...