ख़बरें

पुलिस के मुताबिक स्वामी नित्यानंद फरार, विदेश मंत्रालय ने आधिकारिक पुष्टि से किया इंकार

तर्कसंगत

Image Credits:
News Track Live

November 22, 2019

SHARES

अहमदाबाद स्थित अपना आश्रम चलाने के लिए बच्‍चों को अगवा कर उन्‍हें श्रद्धालुओं से चंदा जुटाने के काम में लगाने के आरोपों से घिरा स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद देश छोड़कर फरार हो चुका है। समाचार एजेंसी पीटीआई के हवाले से ये जानकारी मिली है. बुधवार को नित्यानंद के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी, जिसमें उस पर आश्रम में बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें बंधक बनाकर अनुयायियों से चंदा जुटाने के काम में लगाने का आरोप लगाया गया है.

 

पुलिस को त्रिनिदाद एंड टोबैगो में होने का शक

खबर है कि नित्यानंद त्रिनिदाद एंड टोबैगो में हैं. अहमदाबाद (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक एसवी अंसारी ने बताया कि नित्यानंद विदेश भाग गया है और अगर जरूरत पड़ी तो गुजरात पुलिस उचित माध्यम के जरिए उसकी हिरासत हासिल करेगी। नित्यानंद कर्नाटक में अपने खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद ही देश छोड़कर भाग गया था और उसे यहां ढूंढना समय की बर्बादी होगी. उसके भारत आने के बाद हम यकीनन उसको गिरफ्तार करेंगे.

 

विदेश मंत्रालय का फिलहाल इंकार

हालांकि विदेश मंत्रालय ने उसके प्रत्यर्पण के अनुरोध या किसी भी जानकारी से इनकार किया है. मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “हमारे पास कोई औपचारिक जानकारी नहीं है. न ही गुजरात पुलिस और न ही गृह मंत्रालय से. इसके अलावा, किसी भी प्रत्यर्पण अनुरोध के लिए, हमें उस व्यक्ति के स्थान और राष्ट्रीयता के विवरण की जरूरत होगी.  हमारे पास अभी तक उसके बारे में ऐसी कोई जानकारी नहीं है.”

 

क्या था मामला?

अहमदाबाद में नित्यानंद  योगिनी सर्वज्ञापीठम के नाम से अपना आश्रम चलाता है. गौरतलब है कि बुधवार को पुलिस ने जानकारी दी थी कि योगिनी सर्वज्ञपीठम आश्रम के नौ और 10 साल के दो बच्चों ने हमें बताया कि उन्हें यातना दी जा रही थी और बाल श्रमिक के तौर पर उनसे काम करवाया जा रहा था. आश्रम के लिए चंदा एकत्र करने के काम में इन बच्चों का इस्तेमाल बाल श्रमिक के तौर पर किया जा रहा था. शहर के एक फ्लैट में उन्हें 10 से ज्यादा दिनों से बंधक बनाकर रखा गया था. अभिभावकों की ओर से दर्ज कराई गई एक शिकायत के आधार पर आश्रम से मुक्त कराए गए दो अन्य बच्चों ने इसी तरह के आरोप लगाए.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...