ख़बरें

झारखंड चुनाव : दूसरे चरण के चुनाव में 260 में से 44 उम्मीदवारों पर गंभीर आरोप

तर्कसंगत

Image Credits: News18/प्रतीकात्मक

December 2, 2019

SHARES

झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में चुनाव लड़ने वाले 260 उम्मीदवारों में से 44 ने यानि 17 प्रतिशत उम्मीदवारों ने अपने शपथ पत्रों में खुद के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। अपराधों में हत्या, हत्या का प्रयास और बलात्कार जैसे अपराध शामिल हैं।

कम से कम चार उम्मीदवारों ने खुद पर हत्या (IPC-302) से संबंधित मामलों की जानकारी दी है। इसके अलावा, चार उम्मीदवारों को महिलाओं के खिलाफ अपराध से संबंधित आरोपों का सामना करना पड़ रहा है, जिनमें से एक बलात्कार (आईपीसी -375) से संबंधित है।

इनके अलावा, कम से कम आठ ने हत्या के प्रयास (IPC-307) से संबंधित मामलों की घोषणा की है।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के एक विश्लेषण के अनुसार, प्रमुख पार्टियों के लोगों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के छह उम्मीदवारों में से तीन और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 20 उम्मीदवारों में से पांच।

इसके अलावा, झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के 14 उम्मीदवारों में से पांच, झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) के 20 उम्मीदवारों में से पांच और ऑल झारखंड छात्र संघ (AJSU) पार्टी के 12 उम्मीदवारों में से एक पर गंभीर आरोप लगे हैं। कुल मिलाकर, 67 उम्मीदवारों (26 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं। पहले चरण का मतदान 30 नवंबर को हो चूका है और परिणाम 23 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे।

पांच-चरण के चुनाव का दूसरा चरण 7 दिसंबर को होगा। जमशेदपुर पूर्व, जमशेदपुर पश्चिम, चाईबासा (एसटी), खुंटी (एसटी) और सिमडेगा (एसटी) सहित 20 विधानसभा क्षेत्र में मतदान होगा।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...