ख़बरें

एक हफ्ते में देश में 6 जगहों पर बलात्कार की खबर से लोगों में रोष

तर्कसंगत

December 2, 2019

SHARES

हैदराबाद में डॉ. प्रियंका रेड्डी के साथ हुए अमानवीय बलात्कार ने देश को सदमे की स्थिति में छोड़ दिया है। लोग सोशल मीडिया पर मैसेज और नाराजगी को व्यक्त कर रहे हैं और अधिकारियों अपराधियों को कड़ी से कड़ी सज़ा देने का आग्रह कर रहे हैं।

लेकिन यह अफसोसजनक है कि जिस दिन डॉ. रेड्डी का शव मिला था, दो दिनों की अवधि में देश के विभिन्न जगहों से बलात्कार के और 5 मामले सामने आए थे –  जो भारत में महिलाओं की सुरक्षा की भयावह स्थिति को उजागर करते हैं।

इसके अलावा, जबकि देश और मीडिया हैदराबाद के बलात्कार और हत्या के मामले के बारे में चर्चा कर रहे हैं, तर्कसंगत आपके लिए पांच अन्य भयावह बलात्कार के मामले की जानकरी दे रहा है जो पूरे भारत में एक ही सप्ताह में हुए थे।

 

तमिलनाडु के नेवेली में महिला का गैंगरेप

तमिलनाडु के कुड्डालोर में नेवेली की 32 वर्षीय विधवा महिला का गुरुवार को किराने की खरीदारी कर घर जाते समय पांच लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। पांच में से एक आरोपी को अन्य बलात्कारियों ने मार डाला, विवाद क्या था ? पीड़िता के साथ बलात्कार करने की अपनी बारी को लेकर उसने दूसरे बलात्कारियों के साथ झगड़ा किया।

घटना तब हुई जब पीड़िता अपने रिश्तेदार के साथ दोपहिया वाहन पर घर लौट रही थी। उसके रिश्तेदार ने सुनसान सड़क पर बाइक पेशाब करने के लिए रोका, तो पांच बलात्कारियों के समूह ने उन्हें देखा, रिश्तेदार ने उन्हें रोकने की कोशिश की, लेकिन अपराधियों ने उसे पीट कर भगा दिया।

फिर वे उस महिला को एक अलग जगह पर ले गए और बेरहमी से उसका गैंगरेप किया। आपराधिक कृत्य के बीच, गैंग के सदस्यों में से एक को उसके साथ बलात्कार करने के लिए अपनी बारी न मिलने के कारण हुए लड़ाई में मार दिया गया और साइट पर अपने मृत साथी के साथ पीड़िता को छोड़ दिया। जब पीड़िता को होश आया, तो वह पास के पुलिस स्टेशन गई और शिकायत दर्ज की जिसके बाद उसे मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया गया।

शिकायत के आधार पर, पुलिस ने आरोपियों की पहचान की और सभी पांच लोग दिहाड़ी मजदूर हैं। उन्हें अब न्यायिक हिरासत में ले लिया गया है।

 

कांचीपुरम में बीस वर्षीय के साथ बलात्कार और हत्या

तमिलनाडु के कांचीपुरम में 26 नवंबर की शाम कुछ चरवाहों को झाड़ियों में 20 वर्षीय एक युवती का शव मिला। उन्होंने ग्राम प्रशासन को सतर्क किया और पुलिस उसके शव को बरामद करने के लिए आई – लेकिन जब तक कोई कार्रवाई की गई तब तक उसका शव पूरी तरह से सड़ चूका था।

कांचीपुरम के एक सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों ने मौके पर ही एक पोस्टमार्टम किया और पुलिस ने पिछले कुछ समय में लिखाये गए लापता रिपोर्ट पर गौर करना शुरू किया, बाद में उन्हीं सफलता हाथ लगी कि उस महिला के लापता होने की शिकायत करवाई गयी थी जिसका नाम रोजा था जो सरुवल्लूर की रहने वाली थी।

जांच अधिकारियों में से एक ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि रोजा श्रीपेरुम्बुर की अपने कार्यस्थल पर एक विवाहित व्यक्ति के साथ दोस्ती हो गयी थी। उसके शरीर में गर्दन के चारों ओर चोट के निशान थे जो एक पेड़ से लटकने के कारण हुए थे, अधिकारी ने सूचित किया था।

 

ऑटो चालक ने 11 वर्षीय को कैद में रख तीन दिनों तक उसके साथ बलात्कार किया

पंजाब पुलिस ने कहा कि उन्होनें एक ऑटो-रिक्शा चालक को चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से एक 11 वर्षीय लड़की का अपहरण करने और उसके साथ बलात्कार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, जिसे उसकी चाची ने छोड़ दिया था। राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) की उप-निरीक्षक उर्मिला देवी ने एएनआई को बताया, “चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर एक लड़की को उसकी चाची ने कथित तौर पर छोड़ दिया था।”

बाद में, वह लड़की एक ऑटो-रिक्शा में बैठी और उसने शायद ड्राइवर को बताया हो कि वो अकेली थी। ” नाबालिग की स्थिति का फायदा उठाते हुए, ड्राइवर ने लड़की को अपने किराए के स्थान पर ले गया, उसे दिनों के लिए बंदी बना लिया और उसके साथ बलात्कार किया।” अधिकारी देवी ने आगे कहा कि पुलिस ने 27 नवंबर को लड़की और आरोपी को जीआरपी को सौंप दिया। “पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है और हमने आरोपी को अदालत में पेश किया है और वह दो दिन के रिमांड में है।” मामले में आगे की जांच जारी है।

 

वडोदरा में नाबालिग लड़की से बलात्कार

28 नवंबर की रात को एक 14 वर्षीय लड़की जो अपने 16 वर्षीय पुरुष मित्र के साथ बाहर गई थी, उसके साथ नवलाखी कंपाउंड के पास दो लोगों ने बलात्कार किया। दोनों बलात्कारियों ने खुद को पुलिसकर्मि बताया और उनके साथ लड़ाई की।

जब पीड़िता और उसका दोस्त दूर जाने लगे तो बलात्कारियों ने लड़के की पिटाई की और लड़की को एक परिसर में खींच लिया, उससे पूछा कि क्या उसके पास कोई कीमती सामान जैसे सोने के गहने या महंगा मोबाइल फोन है?

जब उसने इनकार किया, तो वे उसके साथ बलात्कार करने लग गए। लड़की के दोस्त ने तुरंत पुलिस को सूचित किया और उन्होंने उसे नवलखी कम्पाउंड के पश्चिमी छोर के पास स्थित क्रिकेट मैदान पर पड़ा पाया। मेडिकल जांच में पुष्टि हुई कि उसके साथ कई बार यौन उत्पीड़न किया गया और उसके निजी अंगों पर चोट के निशान थे। बलात्कारी अभी भी फरार है।

 

रांची में लॉ स्टूडेंट के साथ गनपॉइंट पर बारह लोगों से बलात्कार किया

इस सप्ताह रांची के उच्च-सुरक्षा क्षेत्र के पास एक ईंट भट्टे पर बंदूक की नोक पर एक 25 वर्षीय लॉ की छात्रा का अपहरण कर लिया गया और उसके साथ 12 लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सभी 12 आरोपियों ने अपराध कबूल कर लिया है। पीड़िता द्वारा कांके पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार, घटना 26 नवंबर को शाम 5.30 बजे की है जब वह शहर के बाहरी इलाके में एक दोस्त के साथ थी।

पुलिस ने कहा कि दो मोटरसाइकिल सवार लोगों ने उनके दोस्त को पकड़ लिया और बंदूक की नोक पर पीड़िता का अपहरण कर लिया। यह स्थान उसके लॉ कॉलेज परिसर से मुश्किल से 4 किमी और मुख्यमंत्री के आधिकारिक निवास से 10 किमी दूर है। इलाके में DGP, झारखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश और विपक्ष के नेता के आवास भी हैं।

उसे मोटरबाइक पर ले जाते वक़्त कुछ दूरी पर पेट्रोल खत्म होने पर उन दोनों ने अपने दोस्तों को फोन किया और उन्हें कार के साथ आने के लिए कहा। इसके बाद वे ईंट के भट्टे पर गए और महिला के साथ बलात्कार किया। पीड़िता अगली सुबह पुलिस स्टेशन पहुंचने में सफल रही और प्राथमिकी दर्ज की, जिसके बाद पुलिस ने छापेमारी कर 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...