ख़बरें

मुज़फ्फरनगर: Mid Day Meal में मिला मरा हुआ चूहा, 9 बीमार

तर्कसंगत

Image Credits: Dainik Bhaskar

December 3, 2019

SHARES

बच्चों में पोषण के स्तर को सुधारने के उद्देश्य से शुरू की गई मिड-डे मील योजना को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. मामला मुजफ्फरनगर की नई मंडी कोतवाली क्षेत के गांव मुस्तफाबाद पचेंडा स्थित जनता इंटर कॉलेज का है. मंगलवार को मिड डे मील में दाल चावल बना था. दोपहर में बच्चों को खाना परोसा गया, जिसे खाने के बाद 9 बच्चों की तबीयत बिगड़ गई. आनन-फानन में बच्चों को अस्पताल पहुंचा गया. इसके बाद खाने की जांच की गई तो दाल में मरा हुआ चूहा निकला.

आपको बता दें, मिड डे मील योजना के तहत 6ठी से 8वीं कक्षा तक के छात्रों को रोज स्कूल में भोजन दिया जाता है. मुजफ्फरनगर के इस स्कूल में रोजाना आने वाला मिड-डे मील, हापुड़ में स्थित जन कल्याण संस्था द्वारा बनाया जाता है.  जब तक दाल में मरा हुआ चूहा मिलने की जानकारी हुई तब तक 9 बच्चे और 1 शिक्षक मिड डे मील खाने लगे थे. रिपोर्टं में बताया गया कि स्कूल में खाना खाने से शिक्षक मन्नू कुमार समेत नौ बच्चों की हालत बिगड़ गई. इनमें हंस(13), हर्ष (12), प्रशांत (11), आशू (13), अमन(11), हिमांशु (13), शिवम (12) सागर (11), देवांश (11) को पेट में दर्द और उल्टी की शिकायत हुई थी, जिन्हें तुरंत उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया.

एनडीटीवी की रिपोर्ट में एक छात्र ने बताया कि उड़द दाल के कन्टेनर में मरा हुआ चूहा था. रिपोर्टर के सवाल करने पर 6ठी क्लास के छात्र शिवांग ने कहा, ”हां सर, हम जब चम्मच से दाल ले रहे थे तो हमने चूहे को दाल के कंटेनर में देखा था”. शिवांग ने आगे कहा, ”तब तक 15 बच्चों को खाना दिया जा चुका था”. स्थानीय शिक्षा अधिकारी, राम सागर त्रिपाठी ने इस घटना को लापरवाही का उदाहरण बताया.  यह भी कहा कि खाना बनाने वाली एनजीओ के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

गौरतलब है कि पिछले कुछ हफ्तों से यूपी सरकार गलत कारणों से सुर्खियों में बनी हुई है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...