ख़बरें

स्कूल में सज़ा के तौर पर सात स्टूडेंट्स के मुंह पर कालिख पोत कर घुमाया

तर्कसंगत

Image Credits: Patrika

December 10, 2019

SHARES

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली से सटे हरियाणा के हिसार में एक हैरान करने वाला वाकया सामने आया है, जिसमें एक प्राइवेट स्‍कूल के 7 मासूमों को परीक्षा में बेहतर अंक नहीं लाने पर मानवता को शर्मसार करने वाली सजा दी गई। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है, पर स्‍कूल का यह रवैया हमारी पूरी शिक्षा व्‍यवस्‍था पर भी सवाल खड़े करता है।

क्‍या मासूमों का परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाना इतनी बड़ी गलती है कि उनके चेहरों को काला कर शर्मिंदगी का एहसास दिलाने के लिए पूरे स्‍कूल में उनका परेड कराया जाए? कम से कम हरियाणा के हिसार स्थित एक निजी स्‍कूल की नजर में ऐसा ही है। यहां चौथी क्‍लास के 7 छात्रों को टेस्‍ट में अच्‍छा अंक नहीं लाने पर ऐसी सजा दी गई, जो मानवता को झकझोर देने वाली है। परिजनों का आरोप है कि मासूमों के चेहरों पर कालिख पोतकर उन्हें बाकी कक्षाओं में घुमाकर शर्मिंदा किया गया। परिजनों ने स्कूल प्रबंधन व प्रिंसिपल के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तारी की मांग की। 5 घंटे तक चौकी में हंगामा हुआ। पूछताछ के लिए पुलिस ने स्कूल प्रबंधन को बुलाने की कोशिश की, लेकिन कोई सामने नहीं आया। देर शाम पुलिस ने स्कूल प्रबंधन पर केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी। फिलहाल स्कूल के बाहर एक पुलिसकर्मी को तैनात कर दिया गया है।

 

पहले प्रिंसिपल ने धमकाया

रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची को लेकर चौकी पहुंचे पिता ने बताया कि, प्रिंसिपल ने बच्ची से प्रश्नों के उत्तर देने को कहा था। 4 प्रश्नों के उत्तर दे दिए थे। एक प्रश्न का उत्तर न दिए जाने पर प्रिंसिपल ने बच्ची के मुंह पर कालिख पोत दी। 6 अन्य बच्चों के साथ भी ऐसा ही किया। फिर दो बच्चों व एक टीचर को बोल पूरे स्कूल में घुमाकर शर्मिंदा किया गया। बच्ची घर पहुंची तो सहमी थी। पूछने पर बच्ची ने घटना के बारे में बताया। परिवार की महिलाएं शिकायत करने गईं तो प्रिंसिपल ने उन्हें धमकाकर भेज दिया। रविवार को पुलिस को शिकायत दी, पर कार्रवाई नहीं की गई।

यह घटना 5 दिसंबर की बताई जा रही है, जिस दौरान न मासूमों को न सिर्फ स्‍कूल परिसर में परेड कराया गया, बल्कि उनके चेहरों पर भी काले रंग से पुताई कर दी गई। हैरानी बात यह है कि अभिभावकों ने जब इस बारे में स्‍कूल प्रिंसिपल और प्रशासन से बात की तो उन्‍होंने इस पर कोई अफसोस तक नहीं जताया।

 

कारवाई में जुटी पुलिस

अब इस मामले ने वहां तूल पकड़ लिया है और दलित समुदाय के लोगों ने प्रशासन को अल्टीमेटम दिया है कि ऐसा करने वाले शख्स के खिलाफ अगर सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो वो पूरे राज्य में आंदोलन करेंगे। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस स्कूल के सीसीटीवी फुटेज को खंगालने में जुट गई है। पुलिस ने बच्ची का भी बयान दर्ज कर लिया है और स्कूल प्रशासन के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। दलित समुदाय के लोगों ने प्रशासन को इस मामले में कार्रवाई करने के लिए 72 घंटे का समय दिया है। स्कूल संचालक फिलहाल मौके से फरार है।

 

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...