सचेत

साम्प्रदायिक सद्भाव की मिसाल देते हुए केरल के मस्जिद में होगा हिंदू विवाह

तर्कसंगत

Image Credits: Pexels

January 7, 2020

SHARES

जहां एक और देश में हिंसा का माहौल है वहीं दूसरी और मुस्लिम समाज 19 जनवरी को मस्जिद में हिंदू रीति रिवाज से शादी करा एकता की मिसाल देने जा रहा है. केरल के एक मस्जिद में जल्द ही एक हिंदू विवाह संपन्न कराया जाएगा जो अपने आप में एक अनोखा मामला है. चेरुवल्लि मुस्लिम जमात मस्जिद के परिसर में 19 जनवरी को बिंदु और दिवंगत अशोकन की बेटी अंजू (22) की शादी हिंदू रीति-रिवाज से होगी. आर्थिक रूप से गरीब दुल्हन के परिवार ने शादी के लिए मस्जिद समिति की मदद मांगी थी.

न्यू इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार दरअसल 22 साल की अंजू का परिवार आर्थिक रूप से बहुत ही कमजोर है. उसके पिता अशोकन का स्वर्गवास हो चुका है. आर्थिक हालात ठीक नहीं होने के कारण अंजू की मां बिंदु ने मस्जिद समिति से शादी के लिए मदद मांगी थी. चेरुवल्ली जमात समिति के सचिव नुजुमुद्दीन अलुम्मूट्टील ने उनकी आर्थिक स्थिति को देखते हुए शादी के लिए तुरंत हां कर दिया.

चेरुवल्लि जमात समिति के सचिव नुजुमुद्दीन अलुमुट्टिल ने बताया, “मस्जिद समिति अंजू को 10 तोला सोना और दो लाख रुपये शादी के उपहार के रूप में देगी. शादी हिंदू रीति-रिवाजों से होगी. हमने लगभग 1,000 लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था की है.”

शादी में एक हजार लोगों के खाने का इंतजाम किया गया है. अंजू का विवाह 19 जनवरी को सुबह 11:30 से 12:30 के बीच सरथ सासी के साथ हिंदू रीति रिवाजों से मस्जिद परिसर में होगा.

शादी का कार्ड सोशल मीडिया पर वायरलशादी का कार्ड सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वायरल हुए इस शादी के कार्ड में जमात समिति ने कहा है कि वह परिवार के अनुरोध पर शादी का आयोजन कर रही है. सभी लोगों को इस समारोह में भाग लेने के लिए आमंत्रित भी किया गया है.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...