सप्रेक

केरल के मस्जिद में मंत्रोच्चारण के साथ हिन्दू जोड़े की शादी

तर्कसंगत

Image Credits: Asianet News

January 20, 2020

SHARES

केरल की चेरुवल्ली मुस्लिम जमात मस्जिद आपसी सौहार्द की मिसाल कायम किया। मस्जिद परिसर में 22 वर्षीय अंजू की पारंपरिक हिंदू रीति रिवाजों से शादी की शहनाई गूंजी। एकता के लिए नजीर बनी यह घटना अलप्पुझा जिले के कयामकुलम की है जहां अंजू की मां अपनी बेटी की शादी के लिए पैसे जुटाने में असमर्थ थी तो मस्जिद कमेटी ने आगे आते हुए उसकी शादी कराने का फैसला लिया।

 

 

दरअसल अंजू का परिवार आर्थिक रूप से कमजोर है। उसके पिता अशोकन का स्वर्गवास हो चुका है। अंजू की मां बिंदु ने मस्जिद समिति से शादी के लिए मदद की अपील की थी। चेरुवल्ली जमात समिति के सचिव नुजुमुद्दीन अलुम्मूट्टील ने कहा कि शादी के लिए मस्जिद समिति ने यादगार के तौर पर दस सोने की उपहार और दो लाख रुपये देने भी दिया गया। शादी हिंदू परंपरा से हुई और इस शादी में करीब एक हजार लोगों के खाने का इंतजाम किया था। नुजुमुद्दीन ने बताया कि पहले से ही आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के हालात साल 2018 में अशोकन की मौत के बाद और खराब हो गए। परिवार के सबसे छोटे बच्चे की पढ़ाई के लिए मैंने निजी तौर पर मदद की है। इस बार मस्जिद समिति से मदद की अपील की गई थी और शादी का खर्च भी बहुत ज्यादा है, इसलिए समिति ने मदद करने का फैसला किया था।

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने शादी की फोटो ट्विटर पर शेयर करते हुए नवदंपति को बधाई दी। उन्होंने लिखा, ‘केरल से एकता का एक उदाहरण, चेरुवल्ली जमात कमेटी ने हिन्दू रिवाजों से आशा और शरत की शादी कराई है। मां की अपील के बाद मस्जिद उनकी बेटी की शादी के लिए आगे आई, नवदंपति, परिवार, मस्जिद कमेटी और चेरुवल्ली के लोगों को बधाई।’

 

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...