ख़बरें

कपिल मिश्रा : 8 फरवरी को हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला

तर्कसंगत

Image Credits: Best Hindi News/Samachar 4Media

January 23, 2020

SHARES

दिल्ली विधानसभा को लेकर सभी राजनीतिक दल जोर आजमाइश में लगे है. वहीं बीजेपी के मॉडल टाउन से उम्मीदवार कपिल मिश्रा विवादित ट्वीट डाल कर चुनाव को ज़मीनी मुद्दों से उठाकर भट बनाम पाकिस्तान बनाने की कोशिश कर रहे हैं. ताज़ा उदाहरण है दिल्ली विधानसभा चुनाव का जहाँ उन्होनें चुनाव  वाले दिन को भारत बनाम पाकिस्तान का मुकाबला कह कर ट्वीट किया है.

 

 

आपको बता दें कि दिल्ली की सभी 70 सीटों पर आठ फरवरी को वोटिंग होनी है. इससे पहले आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी को पत्र लिखकर कपिल मिश्रा का नामांकन पत्र गलत ढंग से स्वीकार करने की बात कही थी. ‘आप’ ने चुनाव आयोग से कपिल मिश्रा की उम्मीदवारी रद्द करने का अनुरोध किया है.

 

इतना ही नहीं शाहीन बाग़ में प्रदर्शनकारियों को भी वो पाकिस्तानी बता रहे हैं. उनके कहना है कि दिल्ली में छोटे छोटे पाकिस्तान बनाये जा रहे हैं.

 

 

उनके इस ट्वीट पर वरिष्ठ पत्रकार  राजदीप सरदेसाई ने भी उन्हें आड़े हाथ लिया और तंज़ किया कि जब भी आपके पास कोई मुद्दा नहीं होता तब आप पाकिस्तान का सहारा लेते हैं.

 

 

आम आदमी पार्टी सरकार में मंत्री रहे कपिल मिश्रा को भाजपा ने मॉडल टाउन से उम्मीदवार बनाया है. कपिल मिश्रा करावल नगर से विधायक थे, इन्होंने लंबे समय से आम आदमी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ था. इसी प्रकार कांग्रेस पार्टी ने भी अल्का लांबा को चांदनी चौक से विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी बनाया है.

‘आप’ के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र में दावा किया गया कि सरकारी आवास पर रहने के दौरान बिजली, पानी और टेलीफोन खर्च से संबंधित अनिवार्य “नो-ड्यूज” सर्टिफिकेट न होने के बावजूद रिटर्निंग ऑफिसर ने कपिल मिश्रा का नामांकन पत्र स्वीकार किया है. समाचार एजेंसी द्वारा पोस्ट किए गए ‘आप’ के पत्र में दावा किया गया है कि मिश्रा पिछले 10 वर्षों से सरकारी आवास में रह रहे हैं और उन्हें भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार सर्टिफिकेट प्रस्तुत करना चाहिए. चुनाव आयोग की ओर से अभी तक इस मामले पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...