ख़बरें

ओडिशा के 90 स्कूलों में ब्लैकबोर्ड और 34 हजार स्कूलों में नहीं है शौचालय

तर्कसंगत

Image Credits: New Indian Express

February 28, 2020

SHARES

ओडिशा में सरकारी स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था बेहद खराब है। यहां बच्चों के लिए पीने का पानी से लेकर ब्लैकबोर्ड और शौचालय तक नहीं है। खुद सूबे के शिक्षा मंत्री समीर रंजन दाश ने यह जानकारी दी है। यहां के कई स्कूलों में बच्चों के लिए पुस्तकालय की सुविधा और बिजली तक नहीं है।

ओडिशा के 90 स्कूलों में ब्लैकबोर्ड नहीं है।34,394 स्कूल ऐसे हैं जहां विद्यार्थियों के लिए टॉयलेट और पीने का स्वच्छ पानी तक नहीं है। यह आंकड़ा पिछले साल मार्च तक का है। बुधवार को राज्य की विधानसभा में इस बात की जानकारी दी गई। इतना ही नहीं, यहां के 35,769 स्कूलों में 2018 -19 के वित्तिय वर्ष तक बिजली तक नहीं थी। सूबे के शिक्षा मंत्री ने एक सवाल के जवाब में ये सारी जानकारी दी है।

उन्होंने बताया कि सूबे के 37,645 स्कूलों में बच्चों के खेलने के लिए ग्राउंड तक नहीं है। 2,451 स्कूलों में पुस्तकालय की सुविधा और 16,368 स्कूलों में दीवार तक नहीं है। इतना ही नहीं, ओडिशा की शिक्षा व्यवस्था इससे भी बदतर है।

शिक्षा मंत्री ने एक सवाल के जवाब में बताया कि सूबे के 51,434 माध्यमिक,उच्च प्राथमिक और हाई स्कूल में पीने के स्वच्छ पानी की सुविधा है। उन्होंने कहा कि यहां माध्यमिक स्कूल में सालाना ड्रापआउट का औसत 5.42 फीसदी और उच्च माध्यमिक स्कूलों से ड्रापआउट का औसत 6.93 फीसदी है। यह आंकड़ा साल 2018-2019 का है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...