ख़बरें

करंट लगे व्यक्ति को दोबारा जीवित करने के लिए गोबर में दबा के रखा

तर्कसंगत

Image Credits: Zee News

March 5, 2020

SHARES

अमरोहा में अन्धविश्वाश को मानने वाली एक ऐसी तस्वीर सामने आई है। यहां 11000 की बिजली की हाईटेंशन लाइन पर करंट लगने पर युवक को तुरंत डॉक्टर के पास न ले जाकर अंधविश्वास का सहारा लिया. युवक की मौत होने पर उसे गोबर में दबा दिया गया। बाद में सब युवक के जिंदा होने का इंतजार करने लगे। सुबह से शाम हो गई। अंधविश्वास के चलते मृतक के शरीर से बस खिलवाड़ करते रहे। देर शाम जब पुलिस के संज्ञान में ये मामला आया तो पुलिस ने भी कार्रवाई की बात कह दी।

दरअसल पूरा मामला जनपद के थाना गजरौला क्षेत्र का है। जहां पर अहरौला तेजवन गांव में युवक फोन से छत पर खड़ा होकर बात कर रहा था। इस दौरान वह हाई टेंशन की चपेट में आ गया। जिसके कारण उसे तगड़ा करंट लगा और मौत हो गई। जब लोगों ने शोर मचाया तो गांव के लोग इकट्ठा हो गअ और आनन फानन में अस्पताल ले जाने के बजाय उसे जमीन पर लिटाया गया। इसके बाद शुरू हुआ अंधविश्वास का सिलसिला। लोगों ने पूरे गांव से गोबर को इकट्ठा किया और फिर मृतक के शव को गोबर में ढक दिया गया। इसके बाद लोग युवक के जिंदा होने का इंतजार करने लगे।

सुबह से शाम हो गई लेकिन युवक को जिंदा न किया जा सका। जब इस मामले की सूचना पुलिस को लगी तो पुलिस मौके पर पहुंच गई और युवक को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी में जुट गई। वहीं, परिवार के सदस्यों का कहना है कि पहले हम सभी प्रक्रिया अपनाएंगे, उसके बाद में तय करेंगे कि आगे क्या करना चाहिए।

अंधविश्वास के चक्कर में हुई इस मौत पर अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने कहा, “शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी, इसके अलावा तहरीर मिलने के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।”

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...