ख़बरें

‘कोरोना’ कह कर मणिपुरी लड़की पर थूका, पुलिस ने दर्ज़ किया मामला

तर्कसंगत

March 24, 2020

SHARES

दुनिया को अपनी चपेट में लेने वाले कोरोना वायरस ने अब नस्लीय टिप्पणी और हिंसा का भी रूप लेना शुरू कर दिया है। कोरोना के चीन से निकलने के कारण अब दुनिया में चाइनीच की तरह दिखने वाले लोगों को नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ रहा है।

ताजा मामला आया है देश की राजधानी दिल्ली में, जहां एक अधेड़ उम्र के शख्स ने एक मणिपुरी युवती को ‘कोरोना’ कहते हुए उस पर थूक दिया।

 

क्या है मामला ?

यह पूरा मामला टि्वटर पर वायरल हो रहा है। ट्वीट के अनुसार मणिपुर निवासी एक युवती दिल्ली के विजय नगर इलाके से गुजर रही थी। उसी दौरान वहां आए कए अधेड़ उम्र के शख्स ने पहले तो उसे ‘कोरोना-कोरोना’ कहकर संबोधित किया और फिर उस पर थूक दिया। घटना के बाद आरोपी स्कूटी पर बैठकर फरार हो गया। इस घटना की सोशल मीडिया पर कड़ी निंदा हो रही है। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

मामला दर्ज़

आरोपी शख्स के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 509 (किसी महिला की इज्जत का अनादर करने के आशय से कोई शब्द कहना, ध्वनि निकालना या इशारा करना) के तहत मामला दर्ज किया गया है। हालांकि, अभी मामले की ज्यादा जानकारी सामने नहीं आई है।

गुजरात में भी एक मामला

नस्लीय टिप्पणी को लेकर दिल्ली में ही नहीं बल्कि गुजरात में भी मामला सामने आया था। यहां कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सरकार ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। इसी दौरान कुछ मणिपुर छात्रों को उनके मकान मालिक और अन्य पड़ोसियों द्वारा कोरोना कहकर प्रताडि़त किया गया। हालांकि, बाद में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मकान मालिक को चेतावनी दी और पीड़ितों को निश्चिंत होकर रहने का आश्वासन दिया।

सोशल मीडिया पर एक और विडियो वायरल हो रहा है। जिसमें भारत के उत्तर-पूर्व राज्यों में रहने वाले छात्र कह रहे हैं, “हम सभी पंजाब के छोटे से गांव चुन्नी कलां में रहते हैं। यहां जो भी उत्तर-पूर्व राज्यों के विद्यार्थी हैं, उन्हें कुछ स्थानीय लोग कोरोना वायरस कहकर चिढ़ाते हैं। सड़क और कॉलेज में हम पर नस्लभेदी टिप्पणियां की जाती हैं। हमारा चेहरा थोड़ा अलग है, लेकिन हम भी भारतीय हैं। हम चीन से नहीं हैं।”

इसराइल में मणिपुरी युवक की पिटाई

बता दें कि गत 14 मार्च को इजराइल के उत्तरी शहर टाइबेरियास में भी दो युवकों ने कोरोना वायरस के डर के चलते मणिपुर निवासी एम शालेम सिंगसन (28) को चाइनीच समझकर ‘कोरोना-कोरोना’ कहते हुए उस पर जानलेवा हमला कर दिया था। अन्य लोगों के आने पर युवक उसे घायल अवस्था में छोड़कर भाग निकले। इसके बाद अन्य लोगों ने घायल भारतीय युवक को अस्पताल में भर्ती कराया था। इस घटना की भी निंदा हुई थी।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...