ख़बरें

घर लौटने के लिए 200 किलोमीटर पैदल चला युवक, रास्ते में हो गई मौत

तर्कसंगत

Image Credits: Twitter/ANI

March 30, 2020

SHARES

दिल्ली से लगभग 200 किलोमीटर की दूरी तय कर आए 39 वर्षीय एक व्यक्ति की शनिवार को आगरा में मौत हो गई। वह लॉकडाउन के मद्देनज़र मध्य प्रदेश के मुरैना स्थित अपने घर जाने के लिए निकला था। व्यक्ति की पहचान रणवीर सिंह के तौर पर हुई है। वह राष्ट्रीय राजधानी में एक निजी रेस्तरां में होम डिलीवरी बॉय का काम करता था।

पुलिस के मुताबिक, पीड़ित राष्ट्रीय राजमार्ग -2 के कैलाश मोड़ के पास गिर गया, जिसके बाद एक स्थानीय हार्डवेयर स्टोर के मालिक संजय गुप्ता पीड़ित के पास पहुंचे। सिकंदरा के स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) अरविंद कुमार ने कहा, ‘गुप्ता ने पीड़ित को कालीन पर लेटाया और चाय और बिस्किट खाने के लिए दिया। पीड़ित ने सीने में दर्द की शिकायत की और अपने जीजा अरविंद सिंह को फोन पर उनकी स्वास्थ्य के बारे में बताने के लिए कहा। शाम करीब 6.30 बजे पीड़ित का निधन हो गया जिसके बाद स्थानीय पुलिस को सूचित किया गया। ”

 

200 किलोमीटर पैदल चला

रणवीर शुक्रवार सुबह पैदल ही अपने पैतृक गांव के लिए रवाना हुए थे। यह संभावना जताई जा रही कि 200 किलोमीटर की पैदल दूरी तय करने से  हुई थकावट छाती में दर्द का कारण हो सकती है।

 

रणवीर की मौत दुर्भाग्यपूर्ण: पुलिस

एसएचओ ने कहा, “पूरे एनएच -2 पर, ऐसे व्यक्तियों के लिए यूपी पुलिसकर्मी भोजन के पैकेट और पानी के साथ मौजूद हैं, लेकिन रणवीर की मौत दुर्भाग्यपूर्ण है।”

 

तुगलकाबाद में तीन साल से कर रहा था काम

मौत के बाद, पुलिसकर्मियों ने पोस्टमार्टम के लिए पीड़ित के शव को ले लिया। ऑटोप्सी रिपोर्ट जारी होना बाकी है।
उपलब्ध जानकारी के अनुसार, रणवीर दिल्ली के तुगलकाबाद में पिछले तीन वर्षों से काम कर रहा था। उनके दो बेटियों समेत तीन बच्चे हैं। वह किसान परिवार से थे और अपने परिवार के लिए इकलौते कमाने वाले व्यक्ति थे।
अंतिम संस्कार के लिए शव को उनके गांव वापस ले जाने के लिए उनके परिवार को आगरा लाया गया है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...