ख़बरें

तमिलनाडु: कैंसर से पीड़ित पत्नी के इलाज के लिए 65 साल के व्यक्ति ने 140 किलोमीटर का सफर साइकिल पर पूरी की

तर्कसंगत

April 13, 2020

SHARES

देश में कोरोना वायरस के लॉकडाउन के चलते लोगों को खाने पीने की चीजों का सामना तो करना पड़ ही रहा है. इस बीच किसी की तबियत अचानक से ख़राब हो जाए या फिर उसे दवा लेनी को होतो लोगों को साधन नहीं मिल रहे हैं. जिसकी वजह से लोगों को परेशान होना पड़ रहा है. कुछ इस तरह का एक मामला तमिलनाडु से आया है. जहां एक 65 वर्षीय बुजुर्ग की पत्नी को कैंसर के चलते 31 मार्च को दर्द होने पर उसे कीमोथैरेपी के लिए अस्पताल लेकर जाना था. लेकिन साधन नहीं मिलने बुजुर्ग पति ने पत्नी को कुंभकोणम से पुदुचेरी इलाके में स्थित जिपमेर अस्पताल जो करीब 140 किलोमीटर दूर है. उसे साइकिल पर बैठकर अस्पताल लेकर पहुंचा.

इस बुजुर्ग का नाम अरिवझगन है. जो कुंभकोणम में रहता है. उसकी पत्नी को कैंसर होने पर कीमोथैरेपी के लिए अस्पताल के डॉक्टरों ने उसे  तमिलनाडु के पुदुचेरी में स्थित जिपमेर अस्पताल (JIPMER) लेकर जाने को कहा था. लेकिन कोरोना वायरस के चलते पूरे देश के साथ तमिलनाडु में भी लॉकडाउन है. ऐसे में पूरे प्रदेश में निजी साधन के साथ ही सार्वजनिक साधन भी बंद हैं.  ऐसे में बुजुर्ग पति ने साइकिल से 140 किलो मीटर दूर अस्पताल ले जाने को लेकर फैसला लिया और करीब 17 घंटे साइकिल चलाकर वह पत्नी को अस्पताल लेकर पहुंच गया.

अस्पताल पहुंचने के बाद बुजुर्ग को मालूम पड़ा कि कोरोना के चलते कीमोथैरेपी का विभाग बंद हैं. जिसके बाद वह अस्पाल के सुरक्षा गार्ड के साथ डॉक्टरों से हाथ पैर जोड़ने लगा और जब अपनी पत्नी के बारे में बताया कि उसे लॉकडाउन के चलते कोई साधना नहीं मिलने पर वह 140 किलोमीटर का सफ़र साइकिल से करके अस्पताल आया है. जिसके बाद अस्पताल के डॉक्टरों ने उसका इलाज किया और इलाजे के बाद उसे अस्पताल के सरकरी एम्बुलेंस से उसे उसके घर भेजवाया.

 

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...