ख़बरें

दमोह में 6 साल की बच्‍ची से रेप, आंखें फोड़ीं, दो आरोपी गिरफ़्तार

तर्कसंगत

April 24, 2020

SHARES

देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए एक ओर तो लॉकडाउन लागू हैं, वहीं दूसरी ओर महिला और बच्चों के खिलाफ अपराध जारी हैं।

मध्य प्रदेश के दमोह जिले के जबेरा थाना क्षेत्र में एक छह वर्षीय मासूम का अपहरण कर दुष्कर्म करने और आंख फोड़कर जानलेवा हमला करने की सनसनीखेज घटना सामने आई है। मासूम को गंभीरावस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घर के बाहर से किया अगवा

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने बताया कि बुधवार शाम करीब 6 बजे मासूम बालिका अपने घर के बाद दोस्तों के साथ खेल रही थी, उसी दौरान आरोपी उसका अपहरण कर ले गया। परिजनों ने उसकी तलाश की, लेकिन वह नहीं मिली। गुरुवार दोपहर बालिका घर के पास ही स्थित एक किसान के बाड़े में घायल अवस्था में पड़ी मिली। पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसकी गंभीर हालत को देखकर उसे जबलपुर रैफर कर दिया गया।

राज्‍य के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस घटना को शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने ट्वीट से कहा, “दमोह ज़िले में एक मासूम बिटिया के साथ हुई दुष्कर्म की घटना शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने घटना का संज्ञान लेकर अपराधी को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए हैं। उस दरिंदे को सख्त से सख्त सज़ा दी जाएगी। बिटिया के समुचित इलाज में किसी भी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी।

दूसरी ओर, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी सरकार को घेरते हुए इस वारदात को “भयावह और अमानवीय ” करार दिया, उन्होंने कहा शिवराज जी, ये प्रदेश में क्या हो रहा है. लॉकडाउन में भी अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने त्वरित रूप से कारवाई करते हुए 12 घंटे के भितर आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था।

एक सप्ताह में दूसरी घटना

हैरान करने वाली बात यह है कि देश में लॉकडाउन लागू होने के बाद मध्य प्रदेश में एक सप्ताह में दुष्कर्म की यह दूसरी घटना है।

इससे पहले गत 18 अप्रैल को भी कुछ आरोपी अस्पताल जा रही एक 17 वर्षीय युवती का अपहरण कर उसे भोपाल के गोविंदपुरा स्थित भेल टाउनशिप में ले गए थे।

जहां आरोपियों ने तीन घंटे तक उसका दुष्कर्म किया था। दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने छात्रा को मयूर पार्क के पास छोड़ दिया था।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...