ख़बरें

मुंबई : डॉक्टर पर कोरोना मरीज़ का यौन उत्पीड़न करने का आरोप, मामल दर्ज़, गिरफ़्तारी नहीं

तर्कसंगत

Image Credits: Aajtak

May 4, 2020

SHARES

मुंबई के वॉकहार्ट हॉस्पिटल के ICU वार्ड में एक डॉक्टर पर 44 वर्षीय पुरुष कोरोना संक्रमित के यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। मामले के मरीज की शिकायत के बाद आरोपी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार अग्रीपाड़ा थानाप्रभारी ने बताया कि मरीज के 29 अप्रैल को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके बाद उसे वॉकहार्ट हॉस्पिटल की दसवीं मंजिल पर स्थित ICU वार्ड में भर्ती कराया गया था।

संक्रमित मरीज ने आरोप लगाया कि गत एक मई की सुबह करीब 09:30 बजे डॉक्टर वार्ड में आया उसके साथ अश्लील हरकत करने लगा। विरोध करने पर उसने मारपीट शुरू कर दी। इस पर उसने अलार्म बजा दिया और अन्य लोगों ने आकर उसे बचाया।

मरीज की शिकायत के आधार पर हॉस्पिटल प्रशासन ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे नौकरी से निकाल दिया।

थानाप्रभारी ने बताया कि 34 वर्षीय आरोपी डॉक्टर ने गत 27 अप्रैल को नौकरी के लिए साक्षात्कार दिया था। इसमें उसका चयन हो गया था और उसने 30 अप्रैल को ड्यूटी ज्वाइन की थी। एक दिन बाद ही उसने घटना को अंजाम दे दिया। उन्होंने बताया कि आरोपी डॉक्टर से पूछताछ कर घटना के कारणों का पता लगाया जाएगा।

मामले में चौंकाने वाली बात यह है कि वारदात के बाद भी पुलिस ने संक्रमण के डर से फिलहार आरोपी को न तो गिरफ्तार किया है और ना ही उससे पूछताछ की गई है। थानाप्रभारी ने बताया कि डॉक्टर ने संक्रमित मरीज को स्पर्श किया था। ऐहतियात के तौर पर उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है।

थानाप्रभारी ने बताया कि मरीज की आरोपी डॉक्टर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 377 (अप्राकृतिक अपराध), 269 (जीवन को खतरे में डालने वाली बीमारियों के संक्रमण फैलने की संभावना) और धारा 270 के तहत मामला दर्ज किया है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...