ख़बरें

वीडियो, उत्तर प्रदेश के संभल में दिन दहाड़े समाजवादी पार्टी के नेता और बेटे की कैमरे के सामने हत्या

तर्कसंगत

Image Credits: amarujala

May 20, 2020

SHARES

उत्तर प्रदेश के संभल जिले में सपा नेता और उनके बेटे की हत्या के आरोपी को घटना के छह घंटे बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया. एसपी यमुना प्रसाद ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 3 टीम लगाई थी. पुलिस ने गोली चलाने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि इस घटना का एक हैरान कर देने वाला वीडियो भी आया है, जिसमें दो शख्स करीब से पिता-पुत्र को राइफल से गोली मारते हुए दिखाई पड़ रहे हैं. गांव में मनरेगा योजना के तहत चक रोड बनाई जा रही है. जिसे लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी हुई थी, जिसके बाद दोनों आरोपियों ने पिता-पुत्र को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया.

द हिन्दू के मुताबिक संभल के पुलिस अधीक्षक (SP) यमुना प्रसाद ने बताया कि मृतक सपा नेता छोटेलाल दिवाकर और उनका पुत्र सुनील है. उन्होंने बताया कि छोटेलाल की पत्नी गांव की प्रधान हैं. वह सुबह अपने बेटे के साथ बहजोई थाना क्षेत्र के फतेहपुर शमसोई गांव में मनरेगा के तहत बन रही सड़क का जायजा लेने गए थे.

उसी दौरान वहां पहुंचे गांव के कुछ दबंगों से उनका विवाद हो गया. गुस्से में दबंगों ने दोनों की गोली मारकर हत्या कर दी.

SP ने बताया कि दबंगों ने खुद के खेत होने की बात कहकर सड़क निर्माण रुकवाने की हिदायत दी थी. छोटेलाल के इनकार करने पर दोनों में बहस हो गई और बाद में उन्होंने गुस्से में आकर पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी.

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

2 मिनट 30 सैकंड के वीडियो में देखा जा सकता है कि सफेद और गुलाबी शर्ट वाले दो दबंगों के हाथ में राइफल है और वो कीचड़ वाली सड़क पर चलते हुए सपा नेता से बहस कर रहे हैं.

करीब ढाई मिनट के इस वीडियो में दो शख्स हाथ में राइफल लिए दिखाई पड़ रहे हैं. वहीं, वीडियो में एक व्यक्ति ‘गोली चला’ कहते हुए सनाई दे रहा है. वहां, मौजूद कुछ अन्य लोग हथियारबंद दोनों लोगों को समझाने का प्रयास करते हैं. जिसके बाद वे दोनों कुछ दूर वापस जाते हैं और फिर राइफल से निशाना लगाकर पिता-पुत्र पर गोली चला देते हैं. गोली लगने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी यमुना प्रसाद ने कहा, “गोली चलाने वालों में एक ही पहचान इलाके के दबंग के रूप में हुई. पुलिस ने इस घटने पर त्वरित करवाई करते हुए 6 घंटे के भीतर मुख्य आरोपियों और दूसरे कुछ लोगों को हिरासत में लिया है.

समाजवादी पार्टी ने इस वारदात पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी ने ट्वीट कर कहा, ‘हत्यारी सरकार! भाजपा के सत्ता संरक्षित गुंडे कर रहे जनता की आवाज उठाने वालों पर प्रहार! संभल के दलित नेता एवं चंदौसी से पूर्व सपा विधानसभा प्रत्याशी श्री छोटे लाल दिवाकर समेत उनके पुत्र की हत्या दुखद! परिजनों के प्रति संवेदना! हत्यारों को गिरफ्तार कर हो न्याय!’

इसी तरह बंदायू से सपा के पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव ने भी घटना पर दुख जताया है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...