ख़बरें

देखिये कि सदानंद गौड़ा ने क्वारंटीन नहीं होने पर क्या सफाई दी

तर्कसंगत

Image Credits: newskarnataka

May 26, 2020

SHARES

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री सदानंद गौड़ा ने कर्नाटक में लागू क्वारंटीन के नियमों को दरकिनार कर विवाद को जन्म दे दिया है. वह सोमवार को दिल्ली से एक उड़ान से बेंगलुरू पहुंचे थे. गौड़ा सोमवार को दिल्ली से उड़ान भरने बाद बेंगलुरु पहुंचे. उसके बाद उन्हें हवाईअड्डा परिसर से बाहर निकल कर अपने वाहन की तरफ जाते हुए देखा गया. उनके सह-यात्री आने के बाद की प्रक्रियाओं से गुजरने का इंतजार कर रहे थे, जिसमें सात दिनों के लिए संस्थागत क्वारंटीन शामिल है.

‘द टाइम्स ऑफ़ इंडिया‘ की एक रिपोर्ट के मुताबिक बाद में गौड़ा ने कहा कि ये नियम उन लोगों के लिए नहीं है जो महत्वपूर्ण पदों पर हैं.

मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने भी शाम चार बजे प्रस्तावित एक बैठक का जिक्र करते हुए अपने कदम का बचाव किया और कहा कि फार्मास्युटिकल्स मंत्रालय का मंत्री होने के नाते उन्हें पूरे देश में यात्रा करनी है.

 

 

मंत्री सोमवार दोपहर केम्पेगौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (केआईए) पर उतरे, जहां वह फेस मास्क उतार कर सीधे अपनी गाड़ी के ओर बढ़ गए.

सरकार के नियमानुसार, उड़ानों द्वारा शहर में आने वाले सभी यात्रियों को अपनी पसंद के होटल में या सरकार द्वारा निर्धारित होटल में सात- दिन के संस्थागत क्वारंटीन के लिए जाना अनिवार्य है.

हालांकि, उन्होंने दावा किया कि वह चाहते तो चार्टर फ्लाइट से बेंगलुरु के लिए उड़ान भर सकते थे, लेकिन उन्होंने ऐसा करना उचित नहीं समझा.

कर्नाटक सरकार में स्कूल शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने भी एक बयान में कहा है कि उन्हें केंद्रीय मंत्री के तौर पर क्वारंटीन नियम से छूट है. बाद में जारी एक संशोधन में राज्य सरकार ने कहा है कि राज्य सरकार और केंद्र सरकार में मंत्री और ड्यूटी की वजह से यात्रा कर रहे अहम अधिकारियों को क्वारंटीन नियमों से छूट है.

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...