ख़बरें

मुंबई : KEM अस्पताल के बीमार कर्मचारी को नहीं मिली छुट्टी, हो गयी मृत्यु

तर्कसंगत

Image Credits: dnaindia

May 27, 2020

SHARES

कोरोना वायरस वार्ड में तैनात एक कर्मचारी की मौत पर आज सुबह स्वास्थ्यकर्मियों और अन्य स्टाफ ने मुंबई के किंग एडवर्ड मेमोरियल (KEM) अस्पताल के बाहर बड़ा प्रदर्शन किया। बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) इस अस्पताल को संचालित करती है।

टेलीग्राफ के मुताबिक बताया जा रहा है कि कर्मचारी चार दिन से बीमार था और उसने छुट्टी मांगी थी, लेकिन उसे छुट्टी नहीं दी गई। रविवार देर रात को उसकी मौत हुई और उसका शव तभी से अस्पताल के शवगृह में रखा हुआ है।

रिपोर्ट का इंतज़ार

कर्मचारी कोरोना संक्रमित था या नहीं इसके बारे में अभी जानकारी नहीं मिल पायी है, जांच के लिये नमूना भेज दिया गया है। मृतक का शव अभी मोर्चरी में रखा गया है उसे परिवार को नहीं सौंपा गया है। प्रदर्शनकारी कर्मचारी अस्पताल के गलियारों में स्ट्रेचर पर पड़े प्‍लास्टिक बैग में बंद शवों के सच को भी फोटो के माध्‍यम से सबके सामने ला रहे हैं।

डॉक्टर्स और स्टाफ भी हैं परेशान

मास्क और अन्य सुरक्षात्मक उपकरण पहन कर प्रदर्शन कर रहे सैकड़ों डॉक्टर्स, पैरामेडिक्स और अन्य कर्मचारियों ने अस्पताल के गलियारे में स्ट्रेचर पर शव रखे रहने का मुद्दा भी उठाया।

हाल ही में अस्पताल की कुछ तस्वीरें सामने आई थीं जिनमें अस्पताल के एक गलियारे में स्ट्रेचर्स पर बॉडी बैग में बंद कई शवों को देखा जा सकता है।


Image


प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि जमीनी मंजिल पर स्थित शवगृह के पूरी तरह भरने के बाद इन शवों को अस्पताल की पहली मंजिल पर भेजा गया था। पहली मंजिल पर एक क्लिनिकल लैब मौजूद है।

अपने विचारों को साझा करें

संबंधित लेख

लोड हो रहा है...